Victory

Cancellation of MDU Exams & Promote all Final Year students with immediate effect

This petition made change with 1,881 supporters!


आदरणीय महोदय,

यह है कि Covid19 महामारी के इस समय में हर कोई अपनी सुरक्षा और कल्याण के बारे में चिंतित है। इस महत्वपूर्ण समय के दौरान परीक्षा आयोजित करने से छात्रों, शिक्षकों के साथ-साथ उनके परिवारों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को बहुत खतरा होगा।

यह है कि मामलों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है जिससे बीमारी के संपर्क में आने की संभावना बढ़ जाती है।

यह है कि हम सभी छात्रों और शिक्षकों की सुरक्षा और भलाई सुनिश्चित करने के लिए कुलपति महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय प्रो। राजबीर सिंह, हरियाणा के माननीय राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य और हरियाणा के माननीय शिक्षा मंत्री श्री कंवर पाल से अनुरोध करते हैं कि सभी अंतिम छात्रों को बढ़ावा दें। परीक्षा आयोजित करने का निर्णय जोखिम भरा है।

परीक्षा रद्द करने का कारण

1. यह है कि प्रदेश मै हालात अभी सामान्य नहीं है और विशेषज्ञों की मानें तो अभी हालात सुधरने मै समय लगेगा और अंतिम वर्ष की परीक्षाओं कै दौरान होस्टल बंद रहेंगे। ऐसे मै गाव और दूसरे जिलो से आने वाले छात्रों को परेशानी का सामना उठाना पड़ेगा।

2. यह है कि इस महामारी के दौर मै परीक्षा देते समय छात्रों को परीक्षा अटेंडेंस लिस्ट पर हस्ताक्षर करने से लेकर अन्य माध्यमों तक कोविड-19 जैसी घातक महामारी फैलने का खतरा बनता रहेगा।

3. यह है कि कुछ छात्र दूर दराज के इलाके से आते है वहाँ उचित इंटरनेट औऱ कंप्यूटर की सुविधा उपलब्ध न होने के कारण वह छात्र ऑनलाइन कक्षाओं से भी वंचित रह गए । और इसी कारण उनका पाध्यक्रम अभी तक पूरा नही हो पाया ।

4. यह है कि बहुत से छात्र ऐसे है जो दूर दराज के इलाके से सरकारी बसों व टेम्पो के माध्यम से कॉलेज तक पहुंते है जो कि इस महामारी के काल मे सेहत के लिए खतरा हो सकता है।

5. यह है कि जैसे कोई कोरोना संक्रमित छात्र गलती से परीक्षा में बैठ जाता है तो अध्यापक व अन्य छात्रों का भी संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है ।

6. यह है कि जो दूर के छात्र पेइंग गेस्ट हाउस में रहते थे हालांकि अब वह अपने घर पर सुरक्षित है । और अगर इस काल मे परीक्षा होती है तो उनके रुकने का स्थान भी बड़ी समस्या हो सकती है । पेइंग गेस्ट में मकान मालिक एक रूम में 4 छात्र तक रखते है , और इस करके संक्रमण का खतरा बढ़ता नजर आता है ।

7. यह है कि यात्रा के दौरान संक्रमित होने पर छात्रों के परिवार के सदस्यों को संक्रमण के संक्रमण का खतरा अधिक होता है।

8. यह है कि यदि छात्र एवं शिक्षक कोविड -19 जैसी घातक महा विनाशक बिमारी से संक्रमित हो जाते है , तो कौन जिम्मेदारी लेगा।

9. यह है कि कई छात्र पहले से ही कन्टेनमेंट जोन में हैं और कुछ छात्र इस महा विनाशक बीमारी से जूझ भी रहे है जो कि अन्य छात्रों और शिक्षकों को भी जोखिम में डाल सकता है।

सधन्यवाद
आपका विधार्थी
महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय,रोहतक,हरियाणा



Today: Pritesh is counting on you

Pritesh Bhardwaj needs your help with “Prof. Rajbir Singh vice chancellor of Maharshi Dayanand University Rohtak Haryana: Cancellation of MDU Exams & Promote all end terms students with immidiate effect”. Join Pritesh and 1,880 supporters today.