Justice for Arnab Goswami

Justice for Arnab Goswami

0 व्यक्ति ने साइन किए। 500 हस्ताक्षर जुटाएं!
500 साइन के बाद इस पेटीशन को लोकप्रिय पेटीशनों में फीचर किए जाने की संभावना बढ़ सकेगी!

Pawan Dubey ने Supreme Court of India और को संबोधित करके ये पेटीशन शुरू किया

बहुत कम शब्दों में सिर्फ यह कि आज पूरे देश के सामने महाराष्ट्र सरकार द्वारा किस प्रकार न्याय के लिए आवाज बुलन्द करने वालों के साथ बदले की भावना का व्यवहार अपनाया जा रहा है स्पष्ट है। मेरा आग्रह है कि राष्ट्रवादी अभिनेत्री कंगना रणावत के बाद अब अर्नब गोस्वामी जो की एक प्रख्यात राष्ट्रवाती पत्रकार हैं उनको कानून के नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए जिस तरह गिरफ्तार कर मारने का प्रयास किया जा रहा है वह मानवाधिकार का उलंघन तो है ही साथ ही तानाशाही का प्रमाण है। अर्नब गोस्वामी न्यायिक हिरासत में हैं लेकिन जबरन पुलिस उनको जेल लेकर गयी। वकील से मिलने नहीं दिया जा रहा है, अज्ञात पेय पदार्थ जबरन पिलाया गया, मारा गया। 

माननीय, एक समान्य नागरिक होने के नाते मुझको भय है दिशा सालियान, सुशांत सिंह राजपूत, कंगना रणावत और फिर अर्नब गोस्वामी जब यह प्रताड़ित हो सकते हैं तो मेरे साथ भी कभी भी कुछ भी हो सकता है। मेरा निवेदन मात्र यह है कि देश में न्यायसंगत निर्णय हों। अर्नब की पुलिस कस्टडी को सीजेएम कोर्ट ने निरस्त कर दिया था उसके बाद भी उनको पुलिस ने जबरन गिरफ्तार कर रखा है और प्रताड़ित किया जा रहा है। 

माननीय, एक आम नागरिक होने के नाते देश के एक राष्ट्रवादी पत्रकार के जीवन रक्षण हेतु आप सभी का संरक्षण चाहिए, बिन आपके संरक्षण के केवल देश एक राष्ट्रवादी पत्रकार को खो देगा। 

प्रार्थी,

पवन दूबे

युवा समाज सेवी,

उत्तराखण्ड प्रदेश, भारत।

0 व्यक्ति ने साइन किए। 500 हस्ताक्षर जुटाएं!
500 साइन के बाद इस पेटीशन को लोकप्रिय पेटीशनों में फीचर किए जाने की संभावना बढ़ सकेगी!