Justice against rape within 2 month

0 व्यक्ति ने हसताक्ष्रर गए। 200 हस्ताक्षर जुटाएं!


भारत में लगातार बलात्कार की घटनाएं बढ़ाने का कारण भारत का नम्र कानून प्रक्रिया, सजा में देरी और कानून से आसानी से बच निकलने की भावना है। भारत मे इतनी बड़ी आबादी है अगर ऐसे कुंठित मानसिकता के लोगों को फांसी होती है तो इससे भारत में बढ़ने वाली बलात्कार की घटनाओं पर तो कमी आएगी है साथ ही ऐसे लोगों को समाज मे दोबारा पनपने का अवसर नही मिलेगा। लेकिन फांसी की सजा हो इससे भी ज्यादा जरूरी है कि फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में सजा की सुनवाई जल्दी से जल्दी 2 महीने में समाप्त की जाए और पेरोल और जेल से जमानत पर बाहर घूमने के सिस्टम पर भी रोक लगेगी। जल्दी न्याय और कड़ा न्याय ही व्यवस्था परिवर्तन का आधार बन सकता है। भारत की आबादी इतनी ज्यादा है कि ऐसे लोगों को फांसी होने से अपराध की एक बहुत बड़ी समस्या का समाधान आसानी से निकल सकता है। लोगों में अपराध केप्रति भय औरनारी के प्रति सम्मान इन दो तरीकों से नारी के प्रति होने वाले अपराधों पर रोक लगाई जा सकती है। न्यायालय को इस पर विचार नही वर्ण इसे लागू करना चाहिए। इसके लिए इस पीटिशन को सभी लोग साइन करें और दूसरों से भी साइन करने के लिए शेयर करें और प्रेरित करें। आप सबका सहयोग ऐसे दरिंदों का अंत कर सकता है। हम कानून अपने हाँथ में नही ले सकते लेकिन लोकतंत्र के अधिकार के उपयोग से इनको इनकी करनी की सजा तो दिलाने में भूमिका अदा कर ही सकते हैं। हम लोग को बस थोड़ा सा समय ही तो देना है 10 मिनट ज्यादा से ज्यादा। फांसी की सजा वो भी 2 महीने के अंदर यही इस समस्या का समाधान है। खत्म करो इन भेड़ियों को हमारे बीच से औरजल्दी से जल्दी

#JusticeForEveryFemale