Against of Irregation Department Apprentice Scam....

0 व्यक्ति ने हसताक्ष्रर गए। 100 हस्ताक्षर जुटाएं!


वाराणसी में सिंचाई विभाग के द्वारा नौकरी और अप्रेंटिस के नाम पर धन उगाही के खिलाफ युवाओं का आंदोलन।

लघु खंड सिंचाई विभाग वाराणसी के द्वारा हजारों छात्रों से नौकरी और अपरेंटिस के नाम पर धन उगाही मामले में आज दिनांक 23 जून 2019 दिन रविवार को सैकड़ों शोषित युवाओं के द्वारा हनुमान मंदिर मोहनसराय बीरभानपुर इकट्ठा होकर आंदोलन किया गया और भ्रष्ट लोगों और सिंचाई विभाग के खिलाफ अग्रिम कार्रवाई का योजना बनाया गया जिसकी अगुआई मानवाधिकार कार्यकर्ता श्री बाबू अली साबरी जी ने किया।
मामला लघु सिंचाई विभाग सिगरा स्थित कार्यालय में कार्यरत बड़े बाबू रोशन श्रीवास्तव के द्वारा आईटीआई पास किए छात्रों से अप्रेंटिस और नौकरी के नाम पर घूसखोरी और अवैध धन उगाही का है जिसमें शोषित छात्रों से कहा गया था कि अपरेंटिस करने के बाद आपको ₹58०० प्रति माह के हिसाब से मानदेय और आपका प्रमाण पत्र दिया जाएगा जिसके लिए आपको ₹15000 देना पड़ेगा परंतु अप्रेंटिस कंप्लीट करने के बाद किसी को 3 साल किसी को 2 साल या किसी को 5 साल भी हो गए जबकि अभी तक ना किसी को प्रमाण पत्र उपलब्ध कराया गया नहीं उनका मानदेय दिया गया और न ही अवैध तरीके से वसूल किए गए पैसे वापस किए गए जब इस मामले की जानकारी माननीय जिलाधिकारी महोदय वाराणसी को ज्ञापन सौंप कर दिया गया तब इस मामले में जांच पड़ताल शुरू हुई परंतु अभी तक कोई न्याय नहीं हुआ जिसके लिए सभी शोषित छात्र संगठित होकर आंदोलित है और शासन व प्रशासन से न्याय की मांग कर रहे हैं न्याय न मिलने पर वह पूर्ण रूप शहर में आंदोलित होने को बाध्य हैं। इस आंदोलन में मुख्य रूप से मानवाधिकार कार्यकर्ता वह इस आंदोलन का संरक्षण कर रहे श्री बाबू अली साबरी अधिवक्ता हरिओम दुबे सामाजिक कार्यकर्ता आबिद शेख शीतला प्रजापति तबरेज अली शहजादा अली राजकुमार सैनी आशीष सैनी सुरेश कुमार राकेश कुमार रजनीश कुमार राजू यादव अरविंद कुमार वर्मा व अन्य छात्र शामिल रहे।