OBE Result

0 व्यक्ति ने साइन किए। 500 हस्ताक्षर जुटाएं!


OBE RESULT UPDATE

अब  दिसंबर का महीना भी खत्म होने को है और इसी के साथ इस वर्ष की समाप्ति भी निकट है लेकिन दिल्ली यूनिवर्सिटी के  3rd year के छात्र / छात्राओं का रिजल्ट अभ भी अपूर्ण है | जिसके कारण  उन्हें कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है वह आगे कहीं भी उच्च शिक्षा के लिए अपना दाखिला करवाने में असमर्थ है केवल परीक्षा परिणाम की घोषणा न होने के कारण |

इस मामले को लेकर कई बार हाई कोर्ट में सुनवाई हो चुकी है और हमेशा की तरह इस केस को भी कई तारीखों का सामना करना पड़ रहा है लेकिन इन सभी मामलो के अन्दर सबसे ज्यादा नुक्सान उन विद्यार्थियों का हो रहा है जिनका भविष्य केवल उनके इस परीक्षा परिणाम पर टिका है |

सरकार और प्रशासन का इस पर कोई रुख नहीं है | इस मामले को लेकर छत्राओ द्वारा कई बार आन्दोलान भी किया गया लेकिन किसी तरह समझा बुझा कर उन्हें शांत कर दिया गया लेकिन अभी तक परीक्षा परिणाम की कोई ठोस तिथि दिल्ली यूनिवर्सिटी या sol डिपार्टमेंट द्वारा जारी नहीं की गई है |

DU OBE परिणाम 2020 घोषित:

नवीनतम अद्यतन के अनुसार, दिल्ली विश्वविद्यालय ने आधिकारिक तौर पर दिल्ली उच्च न्यायालय को सूचित किया है कि हाल ही में आयोजित ऑनलाइन परीक्षा के लिए DU OBE परिणाम 2020 सभी यूजी और पीजी नियमित छात्रों के लिए घोषित किए गए हैं। इसके साथ ही, विश्वविद्यालय ने यह भी कहा कि लंबित एलएलबी अंतिम वर्ष के परिणाम आधिकारिक साइट पर दो दिनों में उपलब्ध कराए जाएंगे। विश्वविद्यालय द्वारा आज जस्टिस हेमा कोहली और सुब्रमणियम प्रसाद की पीठ के समक्ष प्रस्तुतियाँ दी गई थीं।

दिल्ली विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्व एडवोकेट मोहिंदर रूपल ने किया, जिन्होंने अदालत में कहा कि ओबीई के माध्यम से संचालित सभी नियमित स्नातकोत्तर और स्नातक पाठ्यक्रम घोषित किए गए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि एलएलबी फाइनल ईयर के परिणाम भी घोषित किए गए हैं और अगले दो दिनों में छात्रों के लिए मार्कशीट उपलब्ध करा दी जाएगी।

लेकिन अभी तक ऐसा कुछ भी होता हुआ नज़र नही  आ रहा है |

किरोड़ीमल कॉलेज के नोडल अधिकारी राकेश पांडे ने कहा कि कॉलेज स्तर का मूल्यांकन पहले नहीं हुआ है, उन्होंने कहा: “हम पहले आंतरिक मूल्यांकन की वकालत कर रहे थे, लेकिन डीयू ओबीई से आगे बढ़ गया। अब, यह एक प्रकार का आंतरिक मूल्यांकन है। वही शिक्षक जो छात्रों को पढ़ाते थे, उन्हें अब मूल्यांकन करने के लिए कहा जा रहा है। डीयू ने अपनी समस्याओं को कॉलेजों में स्थानांतरित कर दिया है। ” कॉलेज ऑफ वोकेशनल स्टडीज के एक नोडल अधिकारी कुमार आशुतोष ने कहा, "प्रिंसिपलों और शिक्षकों के साथ समन्वय की इस पूरी प्रक्रिया में अधिक समय लगेगा।" श्री रावत ने कहा, “अभी हमारी सबसे बड़ी चिंता यह है कि हम छात्रों की समस्याओं को कितनी तेजी से हल कर सकते हैं; हमें लगा कि इसे कॉलेज स्तर पर सबसे तेजी से हल किया जा सकता है।

अब स्थिति यह हो गई है की sol के अधिकारियों का कहना यह है की obe परीक्षाओं की अंक गणना और परीक्षाओं की चेकिंग के लिए दिल्ली यूनिवर्सिटी ने जरुर उनसे मदद ली थी | परन्तु इसके बाद सभी आंकड़े दिल्ली यूनिवर्सिटी के पास ही है और इससे जुड़े सभी कार्य दिल्ली यूनिवर्सिटी की ऑफिसियल वेबसाइट पे ही किये गए है | परीक्षा  परिणामो के विलम्ब में sol का कोई हाथ नहीं है |

और दूसरी तरफ दिल्ली यूनिवर्सिटी के उच्च अधिकारी यह कहते है की sol के छात्रो की उत्तर पुस्तिका की चेकिंग और अंक गणना sol द्वारा की गई है और वह ही इसका ज़िम्मेदार है |

डीन परीक्षा डीएस रावत का कहना है की उनके द्वारा सभी कॉलेजो और sol को यह सूचना दी जा चुकी है की यदि किसी छात्र को उसके रिज़ल्ट की बहुत अधिक आवश्यक्ता है तो उन्हें विश्वासपात्र परिणाम मतलब ( confidencial result ) जारी कर दिया जाये |

इन सब बातो से यह साफ़ है की अभी तक obe का परीक्षा परिणाम घोषित होने की कोई आशंका नहीं है |

प्रशासन इस तरीके से मामले को नजरअंदाज नहीं कर सकता |

obe का रिजल्ट जल्द जारी किया जाए |