Petition Closed

fly ash brick manufacturers help line of india

This petition had 29 supporters


फ्लाई ऐश एवं फ्लाई ऐश से बने उत्पादों को लेकर सम्माननीय सुप्रीम कोर्ट के जो आदेश है उनका पूरे देश में कही भी पालन नहीं हो रहा आपको जानकार हैरानी होगी की माननीय सुप्रीम कोर्ट का आदेश है की किसी भी ताप विददयुत  गृह से ३०० कि.मी के दाOयरे में आने वाले सभी शास्कीय अथवा अशासकीय निर्माण कार्य में फ्लाई ऐश से बनी ईंटों का ही इस्तेमाल करना अनिवार्य है किन्तु आपको संपूर्ण भारत में इस नियम का पूर्णतः पालन किसी भी राज्य में हो रहा हो ऐसा दिखाई देना असंभव है जिसका दुष्परिणाम ये है की आज भी पूरे भारत में मिट्टी के ईंटों का इस्तेमाल जोरों से हो रहा है जिसकी वजह से दिन प्रतिदिन कृषि योग्य भूमि का रकवा घटता जा रहा है क्युकी इन ईंटो के निर्माण में कृषि योग्य भूमि की ऊपरी उपजाऊ सतह की मिटटी का ही इस्तेमाल होता है मिटटी के ईंटों का निर्माण भविष्य में खाद्यान्न के संकट को उत्त्पन्न कर सकता है दूसरी और यदि पॉवर प्लांट से निकलने वाली फ्लाई ऐश का यदि सार्थक इस्तेमाल नहीं किया गया तो यह फ्लाई ऐश हवा में फैलेगी अतः समाज में स्वांस जन्य बीमारियों का ख़तरा बढ़ जाएगा।

दोस्तो समस्या यही पर खत्म होने का नाम नही लेती इस समस्या का एक बहुत बड़ा और गंभीर पहलू और भी है वो ये जी सुप्रीम कोर्ट के द्वारा मिट्टी के ईंटों पर प्रतिबंध के आदेश की खबर से बहुत सारे पढे लिखे युवा उद्यमियों ने इस व्यसाय में अपना सारा धन एवं कैरियर दांव पर लगा रखा है किंतु सुप्रीम कोर्ट के इस निर्णय का सख्ती से पालन न होने के कारण उन युवा उद्यमियों का भविष्य दांव पर लगा हुआ है ।आलाम ये है कि अधिकांश उद्यमियों ने फ्लाई ऐश ब्रिक प्लांट को लगाने के लिए बैंकों से करोड़ों रुपये के कर्ज ले रखे है जिनमे से अधिकांश उद्यमी बैंक की किश्त तक दे पाने में असमर्थ हैं।और मानसिक तनाव के शिकार होते जा रहे हैं।ज्ञात हो कि इस प्रकार की छोटी छोटी इकाइयों ने ग्रामीण स्तर के लाखों लोगों को रोजगार दे रखा है किंतु शासन के उदासीन रवैये के चलते अब इस प्रकार की इकाइयां दम तोड़ रही है जिससे बेरोज़गारी भी बढ़ेगी। 

अतः आप सब से मेरा विनम्र अनुरोध है की पृकृति को सवांरने में मेरा सहयोग करें 

धन्यवाद 

जेटली धर्मेन्द्र

8435803967

 

 



Today: jetley is counting on you

jetley dharmendra needs your help with “supreme court of india: fly ash brick manufacturers help line of india”. Join jetley and 28 supporters today.