Justice For Alpesh kathiriya

Justice For Alpesh kathiriya

0 व्यक्ति ने साइन किए। 100 हस्ताक्षर जुटाएं!


पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के साथ करीबी अल्पेश कथीरिया को राजद्रोह के तीन साल पुराने मामले में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने कथीरिया की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। पाटीदार नेताओं की गिरफ्तारी के विरोध में सूरत में एक बस को जलाने व कई जगह छिटपुट झड़प की खबर है। उधर, हार्दिक ने अहमदाबाद में उपवास की जिद छोड़कर गांधीनगर में मंजूरी देने की अर्जी तहसीलदार को दी है।




पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति पास के संयोजक हार्दिक पटेल के साथी व सूरत संयोजक अल्पेश कथीरिया को क्राइम ब्रांच ने राजद्रोह के तीन साल पुराने मामले में गिरफ्तार किया है। रविवार को हार्दिक व अन्य पाटीदार नेताओं की गिरफ्तारी के विरोध में देर शाम सूरत, बनासकांठा व अहमदाबाद में प्रदर्शन किए गए। रात को सूरत में एक सरकारी बस को आग लगा दी गई तथा बस स्टॉपेज के कांच तोड़ दिए। इसके अलावा कई जगह पथराव भी किया गया। पुलिस ने बस जलाने के आरोप में 19 युवकों को गिरफ्तार किया है।

इस बीच, पाटीदार समिति के गांधीनगर संयोजक उत्पल पटेल ने गांधीनगर तहसीलदार के समक्ष सत्याग्रह छावणी सेक्टर 6 में पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को 25 अगस्त से आमरण उपवास करने की मंजूरी देने की अर्जी लगाई है। अहमदाबाद में कानून व्यवस्था को लेकर पुलिस ने हार्दिक को उपवास की मंजूरी देने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद रविवार को हार्दिक ने प्रतीक उपवास का प्रयास किया, लेकिन बिना मंजूरी उपवास करने जा रहे हार्दिक को पुलिस ने घर से निकलते ही पकड़ लिया। शाम को हार्दिक व उसके साथियों को छोड़ दिया गया, लेकिन उसके साथी अल्पेश को राजद्रोह के पुराने मामले में गिरफ्तार कर लिया है।