Remove the fee hike in JAWAHAR NAVODAYA VIDYALAYA.

0 व्यक्ति ने हसताक्ष्रर गए। 500 हस्ताक्षर जुटाएं!


जैसा की आप सभी जानते हैं कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय के आदेशनुसार नवोदय विद्यालय समिति के द्वारा जवाहर नवोदय विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों के फीस में वृद्धि की गयी है। यह विद्यालय आपके और हमारे जैसे कई आर्थिक विपन्न बच्चों को एक नया जीवन देने का काम करती है। कई नवोदयन 'भैया-दीदी' ने भारत को और ऊंची मुक़ाम पर पहुंचाने का काम किया है और आगे "शायद" हमारे अनुज भी ऐसा करेंगे।

यहाँ मैंने "शायद" इसलिए कहा क्योंकि फीस वृद्धि के कारण यह पहले का नवोदय नहीं रहा , जिसकी चर्चा भारत के सुदूर गाँव-देहात में हुआ करती थी। फीस वृद्धि के कारण अब यह विद्यालय किसी 'खेतिहर किसान' , 'मज़दूर वर्ग' , समूह 'घ' के अनियोजित कर्मचारी के पहुँच से दूर हो गया है।
आप में से कई लोगों को यह भी लग रहा होगा की फीस की रकम में कोई ख़ास इज़ाफ़ा नहीं हुआ है परंतु, यह केवल बोलने और सुनने में ही अच्छा लगता है। यह वृद्धि उस असहाय वर्ग के लिए है जिसे रात के खाने के बाद अगले दिन के लिए ईश्वर पर निर्भर होना पड़ता है।
आपसे सादर अनुरोध है कि इस बुरे दौर से निकलने में हमारी सहायता करें जिससे कि वर्तमान नवोदयन और भविष्य के नवोदयन का भविष्य उज्जवल हो सके।
नीचे दिए गए लिंक पर आप क्लिक करें, बस आपके हस्ताक्षर की जरूरत है इसमें, दो मिनट से भी कम समय लगेगा परंतु किसी की ज़िंदगी ही बदल जाये, ठीक आपकी तरह।
सधन्यवाद
रवि रंजन सिन्हा
ज.न.वि. राजगीर
(नालंदा, बिहार)