मेजर आदित्य पर दर्ज FIR वापस लो।

0 व्यक्ति ने हसताकषर गये। 100 हसताकषर जुटाएं!


पत्थरबाज़ आतंकवादियों को बचाने के लिए सेना पर जानलेवा हमला कर सकता है, परंतु सेना आत्मरक्षार्थ गोली नहीं चला सकती। FIR दर्ज हो जाता है। क्या मानवाधिकार सिर्फ़ पत्थरबाजों के लिए है? सैनिकों का कोई मानवाधिकार नहीं। आज एक फ़ौजी के पिताजी को अपने बेटे के अधिकार को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाना पर गया और तीन सैनिकों के बच्चों को मानवाधिकार आयोग में जाना पर गया।
मेजर आदित्य पर दर्ज केस वापस में सरकार।
15 लाख सैनिक का परिवार मेजर आदित्य के साथ खड़ा है। और देश की करोड़ों जनता का साथ है सेना को। जय हिंद। जय हिंद की सेना।



आज — N.K आप पर भरोसा कर रहे हैं

N.K Gautam से "Public : मेजर आदित्य पर दर्ज FIR वापस लो।" के साथ आपकी सहायता की आवश्यकता है। N.K और 13 और समर्थक आज से जुड़ें।