To deport all the illegal immigrants who have sneaked into the Indian territory

0 व्यक्ति ने हसताकषर गये। 15,000 हसताकषर जुटाएं!


माननीय प्रधानमंत्री
भारत सरकार
साउथ ब्लॉक
रायसीना हिल्स
नई दिल्ली

विषय : देश के अंदर घुसपैठ किये हुए बंगलादेशी और रोहिंग्या मुसलमानो के कारण होने वाली देश विरोधी और हिंसक गतिविधियों के चलते उनको तत्काल देश से बाहर निकालने की मांग !

माननीय प्रधानमंत्री जी ,
तत्काल आपका ध्यान देश में अवैध रूप से रह रहे बंगलादेशी और रोहिंग्या मुसलमानो की तरफ आकर्षित करना चाहता हूँ,
हालाँकि आप को देश के ख़ुफ़िया तंत्र ने अवश्य की इस गंभीर विषय के बारे में जानकारी दी होगी,.. लेकिन एक जिम्मेदार और जागरूक नागरिक के कर्तव्य का निर्वहन करते हुए आपसे निवेदन करना चाहता हूँ की बिना किसी राजनैतिक दबाव में आये, कठोर फैसला लेते हुए (जिसकी अपेक्षा सिर्फ आपसे ही की जा सकती है) देश में रहने वाले हर अवैध व्यक्ति को तत्काल देश से बाहर निकाला जाए. और इस देश के अंदर उनको किसी प्रकार की संविधानिक और कानूनी अधिकार या सुविधा न दी जाए.

दिल्ली के डॉक्टर नारंग की हत्या और नॉएडा के Mahagun Moderene Society में हुई पथ्थरबाजी ने हर देशवासी को उद्वेलित और चिंतित किया है.
देश के विकास करने की पहली शर्त है शान्ति और सुरक्षा.

हाल ही में कश्मीरी आतंकी संगठनों और रोहिंग्या मुसलमानो के बीच सांठ गाँठ की खबरें भी आयी है, इसके अलावा सोशल मीडिया में प्रसारित एक वीडियो में रोहिंग्या मुसलमान "गजवा - ऐ - हिन्द" की चेतावनी देते नज़र आये हैं.
लिंक संलग्न है :-
https://www.youtube.com/watch?v=QvAuTQ-nLsg

इन बातों से स्पष्ट है की ये शरणार्थी नहीं बल्कि भविष्य के आतंकवादी और संगठित माफिया हैं. देश की कानून व्यवस्था की स्थिति को दांव पर नहीं लगाया जा सकता। हम एक शांतिप्रिय देश हैं लेकिन हमको बार बार गृहयुद्ध और बाह्य युद्धों का सामना करना पड़ा है.

बिना शंन्ति के सांस्कृतिक , आर्थिक और राजनैतिक विकास नहीं हो सकता, अतः आपसे करबद्ध प्रार्थना है की देश के दीर्घकालिक परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए आने वाले भविष्य को शांत और सुखमय बनाने के लिए देश की सीमा चहुँ ओर से अभेद्य की जानी चाहिए, और देश में अंदर घुस आये आवंछित तत्वों को बिना किसी ढिलाई के देश के बाहर खदेड़ देना चाहिए।

इसके साथ ये भी निवेदन करना चाहूंगा की जो भी संगठन या व्यक्ति इन आवंछित घुसपैठियों को शरण देते हैं उनके विरूद्ध देश द्रोह का मुकदमा दर्ज होना चाहिए।

आशा है आप स्थिति की गंभीरता को समझते हुए शीघ्र व त्वरित कार्रवाई करेंगे

धन्यवाद !