हिंदी को भारत गणराज्य की राष्ट्र भाषा बनाया जाये

0 have signed. Let’s get to 100!


१५ अगस्त १९४७ को स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद २६ जनवरी १९५० को देश ने अपने संविधान को अंगीकार करते हुए संविधान की धारा३४३, अध्याय -1, भाग -17 के अनुसार हिंदी को राजभाषा का दर्जा प्रदान किया गया था | 

संविधान के अनुच्छेद ३४३ के खंड -1 में अंग्रेजी भाषा को शासकीय प्रयोजनों में प्रयोग संविधान के प्रारंभ से १५ वर्ष की अवधि के लिए प्रावधानित किया गया था एवं यह सर्वमान्य था कि उपयुक्त समय आने पर हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाया जायेगा | किन्तु यथार्थ में देश की स्वतंत्रता के 70 वर्ष बाद भी हिंदी को राष्ट्रभाषा के रूप में मान्यता प्रदान नहीं की गयी  है |

हिंदी को उसके गौरव को लोटाने के लिए हम सभी हिन्द के निवासियों को एकजुट होकर ये प्रयास करना है | आप सभी का सहयोग इसमें आवश्यक है |

कृपया इस मुहिम से जुड़ें एवं इस याचिका पर हस्ताक्षर कर अपने मित्रों , परिचितों  को आगे भेजें एवं उनसे भी इस प्रयास में जुड़ने के लिए आग्रह करें.|

 



Today: Dr. Nehal is counting on you

Dr. Nehal Raza needs your help with “President of India: Make the Hindi as national language of India”. Join Dr. Nehal and 38 supporters today.