Lu exam cancelled / विश्वविद्यालय की समस्त परीक्षाओं को स्थगित करके छात्रों को प्रमोट करे

0 व्यक्ति ने साइन किए। 200 हस्ताक्षर जुटाएं!


सेवा में
माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी
उत्तर प्रदेश लखनऊ
विषय - कोरोना महामारी के दृष्टिगत लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा 7 जुलाई 2020 से प्रस्तावित परीक्षाओं को स्थगित करने के संबंध में|
महोदय,
आप स्वयं अवगत हैं कि वैश्विक महामारी कोरोना के कारण पूरे विश्व में मानव मात्र के जीवन का संकट है आपके कुशल नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में इसको रोकने आम जनता तक सुविधा उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है | उत्तर प्रदेश में वर्तमान में इस महामारी के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है तथा प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है | इसका प्रभाव मुख्यमंत्री हेल्पलाइन से लेकर लखनऊ विश्वविद्यालय के शिक्षकों सहित कई जगहों पर दिखाई दे रहा है | एक तरफ जहां आप मानवता की रक्षा के संकल्प को पूरा करने की दिशा में प्रयासरत हैं वहीं मुख्य सचिव महोदय द्वारा 19 जून 2020 के शासनादेश एवं लखनऊ विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक महोदय द्वारा 7 जुलाई 2020 के द्वारा विश्वविद्यालय किए जाने का निर्णय लिया गया |
छात्रों से अवगत कराना चाहता है –
1-कोरोनावायरस के कारण अधिकांश पाठ्यक्रम अभी तक पूरा नहीं हुआ है|
2-लखनऊ विश्वविद्यालय में एक नोटिस के दौरान परीक्षा से पूर्व 15 दिन की क्लास चलने की बात कही थी जो अभी तक हवाई स्तर पर हैं |

3-मानव संसाधन विकास मंत्रालय एवं विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा इस विषम परिस्थिति के दृष्टिगत केवल अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षा संपादित करने एवं प्रथम एवं द्वितीय वर्ष तथा द्वितीय एवं चतुर्थ सेमेस्टर के छात्रों को प्रोन्नत करने के निर्देश दिए गए हैं |
4-शासनादेश में उल्लिखित व्यवस्था का पालन उपरोक्त परिस्थितियों के कारण संभव नहीं होगा तथा छात्रों का भविष्य एवं जीवन दोनों को गंभीर खतरा उत्पन्न हो जाएगा यह खतरा केवल छात्रों के लिए ही नहीं बल्कि परीक्षा विभाग को भी होगा |
5-विश्वविद्यालय के परीक्षा समिति द्वारा स्वयं निर्णय लिया गया था कि परीक्षा का संचालन परिस्थितियों के अनुकूल होने पर ही किया जाएगा परंतु अभी की मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर यह सुनिश्चित करना आसान नहीं है कि परिस्थितियां अनुकूल हो चुकी हैं |
5-अगर हम की रिपोर्ट की रिपोर्ट देखें तो हमें पता चलता है कि कानपुर विश्वविद्यालय एवं पूर्वांचल विश्वविद्यालय में उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन में शिक्षकों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने का कारण मूल्यांकन कार्य स्थगित करना पड़ा था एवं शिक्षक भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे |
6-लखनऊ विश्वविद्यालय की परीक्षा विभाग की रिपोर्ट के अनुसार इतने कम समय में परीक्षा को आयोजित कराने में सभी परीक्षा केंद्रों को पूर्णता सैनिटाइज कराने में असुविधा होगी एवं सेनिटेशन का कार्य पूर्णता संभव नहीं हो सकता |
7-वर्तमान में आवागमन के साधनों की उपलब्धता भी काम एवं ट्रेनों बसों का संचालन की पूर्णता नहीं हो सकता है जिसके चलते आम छात्रों को लखनऊ आने में सुविधा का सामना करना पड़ेगा तथा यह भी संभव है कि कुछ छात्र परीक्षा से वंचित रह जाएं |

8-विश्वविद्यालय एक ने कहा कि उसने पाठ्यक्रम के 50% पाठ्यक्रम को कम कर दिया है, इसलिए परीक्षा के अनुसार नया पाठ्यक्रम कहाँ है ?

9-क्या विश्वविद्यालय इस बात से अवगत है कि उसके कई छात्र लखनऊ से बाहर हैं और इस समय परिवहन के लिए कोई सुरक्षित सुविधा एवं रास्ता नहीं है |
10-यदि परीक्षा के दौरान किसी भी छात्र को कैराना सकारात्मक मिलता है और फिर कौन जिम्मेदार है ?
11-छात्रों को सम्पूर्ण चिकित्सा की सुविधा प्रदान करना तथा किसी की दुर्घटना होने की स्थिति में उत्तर प्रदेश सरकार एवं लखनऊ विश्वविद्यालय संयुक्त रूप से जिम्मेदारी लें |
11.1-क्या उत्तर प्रदेश राज्य सरकार या लखनऊ विश्वविद्यालय प्रत्येक छात्र की जिम्मेदारी लेगा ?
इस समय सार्वजनिक परिवहन सुरक्षित नहीं है इसलिए हम सार्वजनिक परिवहन का उपयोग नहीं करना चाहते हैं |
12-जब अन्य विश्वविद्यालयों की सभी परीक्षाएं रद्द हो गईं तो ऐसे दौर में परीक्षा की क्या जरूरत है ?
13-जब विश्वविद्यालय के प्रोफेसर स्वयं ही सुरक्षित नहीं है तो इस परीक्षा को किस आधार पर करने का विचार किया गया है ?
14-सभी छात्रों को परीक्षा से पूर्व एवं परीक्षा समाप्ति के बाद भी न्यूनतम 14 दिन का QUARANTINE प्रदान किया जाए |
15-सभी छात्रों को परीक्षा के दौरान छात्रावास की सुविधा उपलब्ध कराई जाए एवं इसकी जिम्मेदारी लखनऊ विश्वविद्यालय एवं राज्य सरकार संयुक्त रूप से लें |
16-परीक्षा केंद्र एवं छात्रावास के बीच में दूरी होने की स्थिति में लखनऊ विश्वविद्यालय की परिवहन परिवहन की सुविधा प्रदान करें |