JUSTICE WITH RAP VICTIMS

0 व्यक्ति ने हसताक्ष्रर गए। 100 हस्ताक्षर जुटाएं!


कल जो निर्भया के साथ हुआ था वो आज प्रियंका के साथ हुआ और कल किसी ओर के साथ होगा।आखिर कब हम खुदको सुरक्षित महसूस करेंगी ।जैसा गुनाह वैसी सजा होनी चाहिए ।ना अपील ना वक़ील ना दलील ।ऐसे अपराधो में तुरंत फाँसी की सजा होनी चाहिए।