Stop Caste Based Reservation System

0 have signed. Let’s get to 100!


इस देश मे जो आरक्षण की प्रक्रिया है वो जाती के आधार पर है जो आज के समय और जो हमारे देश की स्थिति है उसके अनुरूप ठीक नहीं है क्योकि जातिगत आरक्षण से हमारे देश को परोक्ष रूप से नुक्सान हो रहा है / माननीय डॉ आंबेडकर साहब ने जाती गत आरक्षण उस समय इसलिए शुरू किया था क्योकि तब निचली जात के लोगो के साथ अत्याचार हो रहा था / तब लोगो की वो ऊँची और नीची जात की मानसिकता के कारण वो लोग बहुत कष्ट उठा रहे थे / तब बाबा साहेब ने उनकी स्तिथि देखते हुए उन्हें समाज मे ऊँचा उठाने और बराबरी का हक़ दिलाने के लिए यह आरक्षण शुरू किया / लेकिन आज वो स्तिथि नहीं रही है की ऊँची जात के लोग निचली जात के लोगो को दबा रहे हो / आज हमारे समाज मे चाहे वो ऊँची जात का हो या फिर निचली जात का सबकी स्तिथि लगभग एक जैसी हो गयी है / सभी की आर्थिक स्थिति सुधर गयी है / आज हमारे देश को जातिगत आरक्षण की जरूरत नहीं बल्कि आर्थिक आरक्षण की ज़रुरत है / आज वो समय नहीं रहा की सिर्फ निचली जात के लोग गरीब है , बल्कि आज तो बहुत से लोग मैंने देखे है जो निचली जात के होते हुए भी आर्थोक रूप से सक्ष्छ्म है / आज इस आरक्षण का गलत उपयोग हो रहा है / आप इस चीज़ को एक उदाहरण से समझे, - जैसे आई आई टी मे दाखिले के लिए हमे एक जे इ इ नामक परीक्षा देनी पड़ती है / लेकिन जब उसमे दाखिले की बात आती है तो जो नीची जात के लोगो को उसमे कम नंबर मे ही दाखिला मिल जाता है बल्कि जो जनरल केटेगरी का छात्र है जिसके उससे भी ज्यादा नंबर आते है वो उससे वंचित रह जाता है / जिससे हमारे युवाओ का हौसला डगमगा जाता है / यह स्तिथि सिर्फ देश के पूरे शिक्षा वर्ग की है / अगर अब आरक्षण जाती गत से हटाकर आर्थिक रूप से जो कमज़ोर है उनके आधार पर की जाये तो इस समस्या का हल हो सकता है / क्योकि हमारे देश मे जो गरीब और अमीर का अनुपात है वो बहुत ज्यादा है / उसे खत्म करने के लिए अब हमे जातिगत आरक्षण हटाकर उसे आर्थिक आरक्षण मे तब्दील करना होगा जिससे हमारे देश की तरक्की मे पूरा युवा वर्ग पूरी तरीके से योगदान दे सके /



Today: Madhusudan Rai is counting on you

Madhusudan Rai Rai needs your help with “PM Narendra Modi: Stop Caste Based Reservation System”. Join Madhusudan Rai and 14 supporters today.