Petition Closed

Overhaul election process, to correct vote bank politics. Democracy in India is crippled by divide and rule tactics (VOTE BANK)

This petition had 181 supporters


वोटों से ही, गर होता सही सिलेक्शन, तो IIT, IIM, AIMS, IAS, सेना में 
होता वोटो से ही चयन.

बस MP MLA का ही हो वोटों से चयन, बंद करो पार्षद, सरपंच, मंडी अध्यक्ष चुनना
PSC से हो चयन, भेजो उत्तर के कैंडिडेट को दक्षिण और पूरब के बन्दे को पश्चिम 

देश होगा एक और समर्रध


   

 

Dear Sir,

 

  Current democracy in India is crippled by divide and rule formula. The need of the nation is to normalize, restructure, and redesign selection criteria of candidate which each political party should follow.

   A national committee should be formed to correct loop holes in Indian democracy. Force EC to form a committee with prominent and honest people from political parties, media, police Etc. take suggestions and come up with right selection criteria for candidates which each political party should follow. Like we have in IIT, IAS, Engineering, Medical Colleges etc. etc..      

Device formula to solve hung parliament. Cannot afford to go for another election.  Country should not be black-mailed because of pull and push  by cunning, corrupt and crooked politicians.

Only MP and MLA should be elected by voting. Ban election for Parshad, Nagar Nigam, Panchayat, Mandi etc. etc. These are nursery for goons. Instead should select talented people through PSC and sent across country.  Person from North --> Should Serve South and vise/versa ; Person from  West ---> Should Serve East

Party should never force a PM / CM candidate to nation. Voting should decide who should be PM/CM candidate from  a political party.

 

Would very much like if following points are included by the EC i.e.      

 1. Party should not decide candidates for key positions. For PM and CMs candidate should go for voting and people should decide who they want their PM/CM candidate in particular party, like in US. This will also prevent breakup of political parties. 

  2.   Person should be above 50 years and should have absolute  good record. He should get moderate salary and small car, small house. Should get security only if there is threat. These positions are for service, to do credible job, so that millions of suffering people can live like humans. County is hell for millions and millions. Cores search for open ground for toilet. It is unthinkable, to search for place in open for toilet, in cold, in rain, in sickness, in fever.,  

3. Political parties should be limited to, 4 or 5 only.  EC should force rest of parties to merge.  

4. No more election for villages panchayats, mandi etc. etc. there are rampant corruption and low level politics in these elections. Instead,  these should be govt. position with proper exam and interview.  It seems everyone is politician in India and there is election every day. Elections are big festival in India. 

Good number of parties, organizations are formed by extraordinary people. Congress.... Freedom-Fighters, Netaji Subhash, Patel, Gandhi, Nehru. BJP by Shayma Prasad Mukherji, DeenDyal Uphadhya.  Parties will become good when good candidates are back in, do not need any new party.   People should decide PM candidate then someone can join Congress or BJP stay 5 years and come out to ask for people support. Let people decide who they want PM candidate from Congress or BJP. Party should never force a PM / CM candidate to nation. 

 

**************************************************

ढूंढ रहा इंसान उसे सितारों में,
बसा हुआ साँसो में जो उसकी,

स्वर्ग, जन्नत नहीं कही नील गगन में,
निहित है सब मुझमें ही,
सुन मानव माटी कहे पुकार,

माटी को माना जिसने,
जागा भीतर, सच्चा इंसान उसमे

 

*************************************************

 

है जन्म लिया और खेले हम

मिटजाएगे  और मिलजाएँगे

नहीं कुछ भी अलग और कोई बड़ा तुझसे

मात्र  स्वप्न और कल्पना बाकी

सच्चाई केवल तू  माटी

*************************************************

उठो जागो देखो, बिकता लहू रोज माँ भारती का

अब तो जगाओ यारो, अपनी रगों मे बहते भगत, सुभाष, सावरकर और अमर शहीद जवानो को

हो सारथी बस चाणक्य, गोबिंद, विवेक, कलाम सा, चीख़ती आत्मा मेरी बार बार

************************************************


बचपन से माँ  जिसे माना  था

माटी को जिसकी ईश्वर, अल्लाह, और मसीहा माना  था

माटी ही  सबकुछ,  और है आत्मा  मेरी

असहाय  देख रहा हु,  मरते उसको हर दिन  थोड़ा  थोड़ा    

ना होगी मुक्ति के चाह  कभी ,

जब तक दरिंदे बेचते लहू तेरा,

जब तक आँचल मैला तेरा

बार बार जन्म , तेरी ही  धरती पर  

बस एक  प्रार्थना तेरे चरणों पर

हो  ज्ञान बुद्धिः चाणक्य,  गोविन्द,  भाभा, कलाम  सी

हो साहस  शेखर, भगत, सावरकर सा

हो धैर्य गांधी  सा  दूरद्ष्टि केशव सी

कर पाऊ  सेवा तेरी अमर शहीद जवानों  सी  …..  यही जीवन कविता मेरी, यही जीवन कविता मेरी

 

*******************************************

 

छोटे नेता == बड़े गुंडे

वाह भाई, ... वाह भाई, वाह 

त्रस्त हें जनता इनसे

इनके सर पर बड़े नेता का हाथ

पुलिस पर भी चलती धोस इनकी

पालते ये गुंडों की फ़ौज

नेतागिरी, दादागिरी, गुंडागिरी और चमचागिरी इनका काम

 

वाह भाई, .. वाह भाई, वाह , छोटे नेता == बड़े गुंडे

 

हें बोझ समाज के ये, मक्कार और फ़ालतू ये

हर साल हर महीने होते इलेक्शन, बंद करो बंद करो

माकपा सकपा बसपा सपा लेफ्ट राईट लेफ्ट राईट बीजेपी सीजेपी केजीपी

कांग्रेस ई कांग्रेस जे कांग्रेस U T कांग्रेस Z कांग्रेस, बाप पाप आप साँप  

जनता दल जनता पार्टी सर्वनाश पार्टी शिव सेना रावन सेना AIdmk पार्टी अनेक

मीलायो पार्टी जोड़े देश

 

वोटों से ही, गर होता सही सिलेक्शन, तो IIT, IIM, AIMS, IAS, सेना में

होता वोटो से ही चयन.

 

बस MP MLA का ही हो वोटों से चयन, बंद करो पार्षद, सरपंच, मंडी अध्यक्ष चुनना

PSC से हो चयन, भेजो उत्तर के कैंडिडेट को दक्षिण और पूरब के बन्दे को पश्चिम

देश होगा एक और समर्रध

छोटे नेता == बड़े गुंडे -वाह भाई******* वाह भाई, वाह*********

 

*************************************************************************

धूल, धुँआ, धक्के और धोको से भरा ऑचल तेरा

तीर सा चुभता हर दाग तेरा

विषैलि हो चली अमृत सी माँ गंगा जमुना

अचल अमर अखंड  हिमालय भी हो रहा खंडित अब

वन श्रृंख्ला हो रही सिमित अब,

 

मेहनतकश भी आज झूल रहे फंदे पर

समाज देख रहा मूक तटस्थ सा

नारी पर  नृशंश  अत्याचारों को |

जहाँ  संत ज्ञानियो ने सिखलाया था,

माँ का रूप देखना नारी में

हो लाचार,  लाखो आज  

खड़ी बिकने को बाजारों में |

 

हो रहे हर रोज. शहीद. सैनिक हमारे

अपने ही देश में हुए बेघर लाखो हिंदुस्तानी

खौल जाता ..गर होता पानी भी रगो में

 

हजार कष्टो में जीते  असंख्य हिन्दुस्तानी

कोई कह्र रहा था, नरक नही कही पर। ?

 

स्वर्ग हें बसा, धूल के इस गुबार में, बसी हें जन्नत भी इसमें

करे  श्रेष्ठं हर कार्य,  हो भागीरथी संकल्प और प्रयास हमारा  

हो जायगा धूआँ, धक्के और धोके

सत्यम शिवम् सुन्दरम…………….

 



Today: Bharat is counting on you

Bharat Bharati needs your help with “Overhaul election process, to correct vote bank politics. Democracy in India is crippled by divide and rule tactics (VOTE BANK)”. Join Bharat and 180 supporters today.