नेशनल हाईवे 34 में हो रही मौतों को रोकने के लिए डिवाइडर की मांग

0 व्यक्ति ने हसताकषर गये। 200 हसताकषर जुटाएं!


कानपुर-सागर नेशनल हाईवे 34 में तेज रफ़्तार वाहनों की वजह से हो रही मौतों को रोकने के लिए यह मुहीम चलाई जा रही है.
नेशनल हाईवे 34 घनी आबादी वाले कस्बों के बीच से निकला है. हाईवे होने की वजह से वाहनों की रफ़्तार तेज होती है. स्थानीय प्रशाशन भी इन वाहनों की रफ़्तार में नकेल कसने में नाकाम साबित हो रहा है.
       अभी तक इस हाईवे में दुर्घटना ग्रस्त होकर 10000 से भी ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.
स्थानीय निवासियों की मांग है की-

  • इस हाईवे को फॉर लाइन किया जाये. बाईपास बनवाया जाये साथ ही डिवाइडर का भी निर्माण हो. 
  • तीव्र गति वाहनों वाहनों व मानक से ज्यादा तीव्र ध्वनि (हॉर्न) वाले वाहनों पर नकेल कसी जाये.
  • हर चौराहे पर सी सी टीवी कैमरा व् ट्रैफिक पुलिस की उपलब्धता.
  • छोटे सवारी वाहनों में मानक से ज्यादा सवारियां बैठाने पर विधिक कार्यवाही हो. 
  • ठेले, खोमचे व् अन्य किसी भी प्रकार के अतिक्रमण को हटा कर उनकी अलग स्थान पर व्यवस्था की जाये.
  • नेशनल हाईवे में बैरिकेटिंग की सुविधा सुनिश्चित की जाये.
  • बिना हेलमेट वाले दोपहिया वाहनों व बिना सीट बेल्ट बांधे हुए चार पहिया वाहनों को पेट्रोल न दिया जाये.
  • नेशनल हाईवे हेतु एक विशेष एम्बुलेंस की व्यवस्था की जाये, जिसमे प्राथमिक उपचार की सुविधा हो.

निवेदक समस्त स्थानीय निवासी
            जनपद हमीरपुर



आज — Santosh आप पर भरोसा कर रहे हैं

Santosh Pyasa से "Nitin Gadkari : नेशनल हाईवे 34 में हो रही मौतों को रोकने के लिए डिवाइडर की मांग" के साथ आपकी सहायता की आवश्यकता है। Santosh और 144 और समर्थक आज से जुड़ें।