अदौरी खोरी पाकर जानकी पथ पुल निर्माण

0 व्यक्ति ने हसताकषर गये। 200 हसताकषर जुटाएं!


बागमती एवं लाल बकिया नदी के संगम स्थल अदौरी खोरी पाकर  पुल का निर्माण जो कि नेपाल बॉर्डर से मात्र 12 किलोमीटर तथा जानकी जन्म भूमि पुनौरा जानकी कर्मभूमि जनकपुर को ऐतिहासिक स्थल बापूधाम मोतिहारी गोरखपुर अयोध्या तथा दिल्ली को जोड़ने वाली इस महत्वपूर्ण पुल निर्माण जिसके लिए हमारी तीन पीढ़ियों ने लगातार संघर्ष करने का कार्य किया है और मात्र राजनीतिक उदासीनता के कारण यह निर्माण अब तक संभव नहीं हो पाया आज जहां एक तरफ इस पुल के लिए संघर्ष जन आंदोलन का रूप ले रहा है तथा संघर्ष की लपटें दिल्ली तक पहुंची हैं अभी भी सरकार की उदासीनता जायज नहीं दिखती बार बार लोकसभा में प्रश्न विधानसभा में प्रश्न विधान परिषद में प्रश्न मुख्यमंत्री पथ निर्माण मंत्री यहां तक कि उपमुख्यमंत्री भी मंच से घोषणा कर चुके इस अदौरी पुल का 2010 में अब जनता मजबूरन नोटा की तरफ बढ़ने के प्रयास में है हम समस्त आप महानुभावों की जानकारी में इस जनांदोलन को लाते हुए आपसे अनुरोध करते हैं कि अति शीघ्र निर्माण की दिशा में कदम उठाई जाए जिससे जनमानस में सबके साथ सबका विकास तथा न्याय के साथ विकास के नारो को बल मिल सके