SAVE OUR TREES - SAVE 4900 TREES FROM BEING CUT DOWN

0 व्यक्ति ने हसताकषर गये। 100 हसताकषर जुटाएं!


बिलासपुर के कोनी से बगदेवा बैरियर (रतनपुर मार्ग ) तक की सड़क के बीच सड़क चौड़ीकरण के लिए 4847 वृक्ष काटने का निर्णय लिया गया है , छत्तीसगढ़ वन विभाग के द्वारा | इससे पहले भी काफी घटनाएं हुई हैं जहाँ लाखों लहलहाते हरित वृक्षों को बलि चढ़ा दी गयी विकास के नाम पर |

ये याचिका दायर करना एक पहल है आम जनता के द्वारा , जिसे गर्व है अपने हरित वृक्षों पर | प्रगति के नाम पर प्रकृति उजाड़ना सभ्यता नहीं है | नयी पौध या वृक्षारोपण इसका विकल्प नहीं , क्योंकि इन वृक्षों को १०-१५ साल लगेंगे दुबारा उगने में | 

हम सभी अपने बच्चों के लिए एक बेहतर कल बनायें , इसी दिशा में ये पहल है | प्रकृति को नष्ट किये बिना , अगर हम विकास की तरफ अग्रसर हों , तो हम न सिर्फ अपने राज्य में और आने वाली पीढ़ी के लिए , बल्कि पूरे देश में एक मिसाल कायम करेंगे |

आप सभी जन से विनती है , इस पहल में आपका साथ मिले और ज़िम्मेदार सरकारी विभाग इसका कोई दूसरा विकल्प देखें जो प्रकृति का नुक्सान न करें |



आज — Nishant आप पर भरोसा कर रहे हैं

Nishant Mishra से "Mahesh Gagda (Hon. Forest Minister of Chhattisgarh): SAVE OUR TREES - SAVE 4900 TREES FROM BEING CUT DOWN" के साथ आपकी सहायता की आवश्यकता है। Nishant और 64 और समर्थक आज से जुड़ें।