Kindly Sign this petition for the certain reforms in HPU

0 व्यक्ति ने हसताक्ष्रर गए। 100 हस्ताक्षर जुटाएं!


श्रीमान जी/ श्रीमती जी

उल्लेखनीय है कि हिमाचल प्रदेश  विश्वविद्यालय  ने निस्संदेह प्रदेश में उच्च शिक्षा के प्रसार में  महत्वपूर्ण योगदान दिया है। परन्तु हाल के समय में प्रदेश विश्वविद्यालय  की कार्यप्रणाली पर कई तरह के सवालिया निशान उठ रहे हैं। यह बात विश्वविद्यालय प्रशासन से भी छिपी नहीं है। हाल ही में आए  परिणामों के नतीजे भी छात्रों में संदेह पैदा कर रहे हैं। 

ध्यान देने योग्य है कि - 

1. शैक्षणिक संस्थानों  जैसी पवित्र संस्था पर  इस प्रकार के संशय पैदा होना स्वाभाविक और स्वीकार्य  नहीं। अतः संस्थान को इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि उसपर संशय की परिस्थितियां उत्पन्न न हो सके। 

2- संस्थान को हमेशा सुधारों के लिए प्रयासरत रहना चाहिए और यह ध्यान रखना चाहिए कि छवि में हमेशा बेहतरी आए। 

परन्तु पिछले कुछ समय से  प्रदेश विश्वविद्यालय की छवि को गहरा अघात लगा है  जिस कारण से  जो लोग आर्थिक तौर पर सक्षम हैं  वे प्रदेश छोड़कर बाहर के विश्वविद्यालयों में पढ़ने को अधिक प्राथमिकता दे रहे हैं  । तथा जो सक्षम नहीं है वे  मजबूरी  में   यहीं पढ़ाई कर रहे हैं।  

अतः  हमारी मांगें हैं कि - 

1. ऐसी परिस्थितियां क्यों उत्पन्न हो रही हैं - इस बात की जांच करके उचित कदम उठाए जाए। 

2. परीक्षा परिणाम बार - बार विवादों में रहते हैं। अतः परीक्षा परिणामों को अधिक पारदर्शी बनाया जाए। 

3- पुनर्मूल्यांकन के लिए अपील दायर करना हर छात्र का अधिकार है। 'अंक किस आधार पर मिले हैं'- यह जानना भी छात्रों का महत्वपूर्ण अधिकार है।  अतः  सभी छात्रों के लिए पुनर्मूल्यांकन की सुविधा  बहाल की जाए। 

4- विश्वविद्यालय में  अंको को अपलोड करते समय  'अस्थायी तथा टेंडर कर्मचारियों' द्वारा लापरवाही बरते जाने की संभावनाएं हैं । कई मामलों में ऐसी लापरवाही सामने आई है।   - इन संभावनाओं को खत्म करने हेतु  विशेषज्ञ जांच के बाद विशेष प्रयत्न किए जाने चाहिए। 

5- विश्वविद्यालय में अन्य सुधारों की संभावनाओं को गंभीरता से तलाशने के लिए  एक स्थायी समिति बनाई जानी चाहिए ताकि सुधारों के माध्यम से  विश्वविद्यालय की छवि सुधारी जा सके। 

धन्यवाद।