#HighBeamNotOkPlease : हाई बीम लाइट का जुर्माना बढ़ाया जाए

0 व्यक्ति ने साइन किए। 25,000 हस्ताक्षर जुटाएं!


आपको कैसा लगेगा अगर आप अचानक से कुछ पल के लिए अंधे हो जाएं और जब आपकी आँख खुले तो आप खुद को एक क्षतिग्रस्त शरीर और गाड़ी के साथ अस्पताल में पाएं?

देश की सड़कों पर चलने वाले बहुत से लोगों के साथ ऐसा हुआ है, जो गाड़ियों की ‘हाई बीम’ की तेज़ रोशनी के शिकार हुए हैं।

सिग्नल पर नहीं रुकना, बहुत तेज़ गाड़ी चलाना या पीकर गाड़ी चलाना- सड़क दुर्घटना के अनगिनत कारण होते हैं। हम सबके बारे में बात करते हैं पर ‘हाई बीम’ पर गाड़ी चलाना कितना खतरनाक होता है, इससे कितनी दुर्धटनाएं होती हैं, इस बात को नज़रअंदाज़ कर दिया जाता है। ये पेटीशन साइन करें।

हाई बीम लाइट तकरीबन 25% सड़क हादसों का कारण होती है, खासकर दो-पहिया वाहनों के साथ होने वाले हादसे। हाई बीम पर गाड़ी चलाने का जुर्माना मात्र 100 रुपये ही है और कुछ केस में 300 तक। इसको तुरंत बदलने की ज़रूरत है!

RTO सड़क दुर्धटनाओं के लिए कई तरह के जुर्माने लगाती है और इसको कम करने की दिशा में उसने बहुत सारे कड़े कदम भी उठाए हैं। पर ‘हाई बीम’ की समस्या पर कड़े कदम नहीं उठाए गए हैं

#HighBeamNotOkPlease बिग एफएम और एचडीएफसी एर्गो का साझा अभियान है ताकि हमारी सड़कें हर किसी के लिए सुरक्षित हों। ये पेटीशन साइन करें और सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय से मांग करें कि हाई बीम पर गाड़ी चलाने का जुर्माना बढ़ाया जाए।