कूड़े की समस्या से जूझता मुज़फ्फरनगर !

0 have signed. Let’s get to 100!


सेवा में

आदरणीय जिलाधिकारी एवं EO नगरपालिका महोदय,

मुज़फ्फरनगर , उत्तर प्रदेश

 विषय : कूड़े के निस्तारण के वर्तमान तरीको से नागरिको को होने वाली समस्याओं के   

       निवारण हेतु निवेदन !

 महोदय,

 इस ज्ञापन के द्वारा हम आपको शहर के कूड़े के निस्तारण के तरीके से नागरिको को हो रही परेशानियां आपके संज्ञान में लाना चाहते है |

कूड़े के निस्तारण का तरीका शहर के लिए बहुत बड़ी समस्या बना हुआ है | इस कारण -

शहर में लगभग 15 स्थानों पर मोहल्लों के बाहर रोड पर बड़े बड़े कूड़े के ढेर । जिसके कारण वहां रहने वाले और उन स्थानों से गुजरने वाले भयंकर बदबू से परेशान ! साथ में बीमारी फैलने का खतरा !

कूड़े का उठान दिन में 10 बजे से दोपहर तक होता है जिसके कारण शहर में बदबू और कुछ स्थानों पर ट्रैफिक में अव्यवस्था होती है । जहाँ जहाँ से कूड़े से भरा ट्रक निकलता है बदबू फैलता हुआ जाता है !

§  सुबह के समय कूड़ा प्रबंधन कंपनी A2Z एवं नगरपालिका के कर्मचारी ठेलो में मोहल्ले का कूड़ा इकट्ठा करते है |

-    वो उस कूड़े को आसपास बने डलावघर में डाल आते है | यह डलावघर सडको के किनारे खुले में बने हुए है |

-    यह डलावघर ही नागरिकों की परेशानी का सबब बने हुए है | इन खुले डलावघरों के आसपास हर समय दुर्गन्ध रहती है , जानवर वह कूड़े के ढेरो के आसपास मंडराते रहते है जिससे वे जानवर भी निमार होते है साथ में एक्सीडेंट का खतरा बना रहता है |

इन डलावघर से उठने वाले तेज दुर्गन्ध और फैली गंदगी को लेकर अलग अलग क्षेत्र के नागरिक नगरपालिका अधिकारियो से आयेदिन शिकायत करते है और नगरपालिका से एक ही उत्तर मिलता है कि नगरपालिका के पास डलावघर के लिए शहर में कोई जगह ही उपलब्ध नहीं है |

हम सभी नागरिक इस बात को समझते है की मुज़फ्फरनगर का नगरपालिका सीमा क्षेत्र बहुत ही सीमित और अत्यधिक जनसंख्या घनत्व वाला क्षेत्र है परन्तु नगरपालिका, जिला प्रशासन , शासन की पूर्णत जिम्मेवारी बनती है कि वे खुले डलावघर की जगह कूड़े के निस्तारण के वैकल्पिक तरीको को खोज कर अपनाये जिससे नागरिको का गंदगी, दुर्गन्ध एवं बीमारियों से बचाव हो |

कूड़े के निस्तारण के वैकल्पिक तरीको की खोजबीन करते हुए मुझे कूड़े के अंडरग्राउंड कंटेनर सिस्टम की जानकारी Youtube पर मिली ! इसकी जानकारी निचे शेयर कर रहा हूँ और आशा करता हूँ की इस जानकारी से हमारे शहर को गंदगी और दुर्गन्ध से मुक्ति मिलेगी |

1.       यह तकनीक उत्तराखंड के हल्द्वानी-काठगोदाम नगर निगम ने 2014 में प्रयोग में लायी ! कृपया यह लिंक पर यह विडियो देखे !

 https://youtu.be/PNiJTXdSlzU

Project title: Underground Garbage Collection Bin System Installed by NAGAR NIGAM HALDWANI No. of Bins: 6 (Six) Project Cost: Rs 60.14 Lakh Project Funds: Financial assistance by HUDCO – Rs44.18 Lakh Funds invested by Nagar Nigam – Rs15.96 Lakh Technical support by IRWM New Delhi The project for modern 6 (six) underground bins of 3 cubic meter having capacity to collect 1.5 metric tonne of municipal garbage based on international technology commonly practiced in most of the European countries including Sweden

2.       यह तकनीक पुष्कर राजस्थान में जाग्रति फाउंडेशन नामक संस्था ने लगायी| यह तकनीक थोड़ी किफायती भी लग रही है और इसका संचालन वर्तमान संसाधनों में थोडा फेरबदल कर कम लागत वाला प्रतीत हो रहा है | 

https://youtu.be/fWl2ApA3Q4E

हमारा मुज़फ्फरनगर नगर पालिका एवं जिला प्रशासन से निवेदन कि उपरोक्त बिन्दुयो का संज्ञान लेते हुए कूड़े के निस्तारण की ऐसी व्यवस्था बनाये जिससे नागरिको को परेशानी ना हो एवं शहर स्वच्छ और सुन्दर बने | इसके लिए -

§  जहाँ जहाँ सडको पर कूड़े के ड़लावघर है वहां अंडरग्राउंड कंटेनर सिस्टम जाये और कर्मचारी कूड़े की ठेली का कूड़ा उसी में डाले !

§  ड़लाव के स्थानों से कूड़ा उठाने की व्यवस्था सुबह 8 बजे से पहले पहले निपट जाये इसी हिसाब से कर्मचारी की डयूटी लगायी जाये !

मुज़फ्फरनगर के नागरिक नगरपालिका अधिकारियो एवं जिला प्रशासन से आशा करते है की वे मुज़फ्फरनगर के नागरिको को कूड़े के निस्तारण के कारण होने वाली परेशानी से मुक्त करने एवं शहर को स्वच्छ और सुन्दर में तत्परता से जरूरी कदम उठाएंगे !

निवेदक                                                           

अमित महेन्द्रू

निवासी गाँधी कॉलोनी

मुज़फ्फरनगर -251001

9412211960



Today: Amit is counting on you

Amit Mahendru needs your help with “District Magistrate Muzaffarnagar ; : कूड़े की समस्या से जूझता मुज़फ्फरनगर !”. Join Amit and 50 supporters today.