Demand Justice to Mukesh alias Pappu Chowdhry

Demand Justice to Mukesh alias Pappu Chowdhry

0 have signed. Let’s get to 200!
At 200 signatures, this petition is more likely to be featured in recommendations!
Lal Baba started this petition to Dgp Bihar and

होलिका दहन की संध्या को अपराधियों ने खगड़िया जिले के मुफ्फसिल थानांतर्गत रहीमपुर चरखुट्टी निवासी मेरे मौसेरे भाई व बाल सखा मुकेश उर्फ पप्पू चौधरी की एकनिया दियारे में बेरहमी से हत्या कर दी। वह अपने खेत में गेहूं की दौनी करवा रहा था तभी दस लोगों का एक जत्था आया और उसपर हमला कर दिया।अपराधियों ने पहले उसके एक सहयोगी के सर पर वार किया फिर मुकेश का हाथ पैर बांध कर उसे जानवरों की तरह पीटा और अचेतावस्था में उसे गेहूं की दौनी करने वाले थ्रेसर में डालने की चेष्टा की।असफल रहने पर दरिंदों वे उसे ट्रैक्टर से बांधकर घसीटा और फिर मृतप्राय शरीर को ट्रैक्टर से रौंद कर नृशंस हत्या कर दी।

मेरा भाई पढ़ लिखकर खेती करता था, वृद्ध माता पिता की गांव में रहने की जिद की वजह से शहर की जगह गांव में रहता था।वह काफी मिलनसार था और ग्रामीणों की मदद को हमेशा तत्पर रहता था।उसकी मौत से शोकाकुल ग्रामीणों ने इसबार होली नहीं मनाई।

उधर अपराधी खून की होली खेलकर दीवाली मना रहे हैं स्थानीय पुलिस को जिस रफ्तार में करवाई करनी चाहिये वो नहीं हो रही है।इस नृशंस हत्याकांड का सरगना गांव का पूर्व मुखिया और उसका भाई है इसलिये पुलिस नरमी बरत रही है।पैसे व भय का खेल खेल जारी है।

हत्याकांड में पप्पू चौधरी की पत्नी ने गांव के पूर्व मुखिया सहित 9 अन्य लोगों के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज करवाई है।पूर्व मुखिया का इतिहास आपराधिक है।अपराध के बल पर वो खुद या उनकी पत्नी तीन कार्यकाल तक मुखिया रहे।उन्होंने दियारे की सैकड़ों एकड़ जमीन पर अवैध कब्जा कर रखा है।उनकी इन कारस्तानियों से छुब्ध होकर पिछले चुनाव में उन्हें हरा दिया।

पप्पू चौधरी ने भी आम लोगों की तरह कभी उक्त मुखिया का खुलकर विरोध नहीं किया परन्तु गांववालों को सरकारी योजनाओं की जानकारी देने व उसका लाभ दिलवाने के लिए हमेशा तत्पर रहते थे। पप्पू चौधरी की इसी सेवाभावना से पूर्व मुखिया का परिवार नाराज था और अपनी हार के लिए पप्पू चौधरी को जिम्मेदार मानता था।

पप्पू चौधरी के परिवार में उसके वृद्ध माता पिता,उसकी विधवा,एक नाबालिग पुत्री व एक विवाहित पुत्र है।आमदनी का जरिया खेती थी जिसकी वजह से उसकी हत्या हुई।अपराधियों ने खुलेआम एलान किया कि वो उसकी जमीन को कब्जा कर लेंगे।जमीन पर कब्जा उतना महत्वपूर्ण नहीं है महत्वपूर्ण है उनके परिजनों की सुरक्षा।

हमारी इस पिटीशन का उद्देश्य किसी से बदला लेना नहीं है बल्कि अपने भाई को न्याय दिलाना और उसके परिवार वालों की सुरक्षा सुनिश्चित करना है।

आप तमाम अमन पसन्द व कानून के राज में विश्वास रखने वालों से अपील है कि हमारे पिटीशन पर हस्ताक्षर करें और अपने मित्रों से शेयर कर उन्हें भी हस्ताक्षर के लिये निवेदन करें।

सोशल मीडिया पर व change.org पर नामचीन हस्तियों को न्याय दिलाने के अनेक अभियान चलते हैं जिनका हम आप जैसे लोगों को कोई फायदा नहीं मिलने वाला पर पप्पू हमारी आपकी तरह एक आम इंसान था।इस पिटीशन पर आपका सिगनेचर हम आप जिसे लोगों को न्याय व सुरक्षा की गारंटी देगा।

भारत का एक आम आदमी

 

0 have signed. Let’s get to 200!
At 200 signatures, this petition is more likely to be featured in recommendations!