याचिका बंद हो गई

उपेंद्र उर्फ अंशु, मयंक और अंशु का भाई बेगुनाह है?

यह मुद्दा 38 हस्ताक्षर जुट गये


दबंगो के द्वारा साजिश के तहत निर्दोष को फसाया गया

मै शिवम् यादव पुत्र स्व सतीश यादव मुहल्ला नया पटेल नगर उरई जिला जालौन उत्तर प्रदेश का निवासी हूँ। यह घटना दिनाँक 23-11-2017 को रात्रि करीब 9 बजे मेरी माँ घर पर थी तभी मुहल्लावासी दुर्जेन्द्र द्विवेदी पूत्र ओमबाबू, मंजुल द्विवेदी पुत्र ओमबाबू तथा भुवनेश द्विवेदी पुत्र ओमबाबू अपने साथ में 6-7 आदमियों  के साथ घर मे घुस गये और मेरी माँ को घसीटते हुए अपने घर ले गये, बंधक बना कर रखा, गाली गलौच दी और मारपीट के बाद जान से मारने की धमकी दी और साथ ही मेरे भाइयो को फोन करने को कहा। माता जी के मोबाइल से मेरे भाइयों को बुलाने के लिए कहा। मेरे छोटे भाई उस वक्त विवाह समारोह से लौट रहे थे घर पहुँचने पर भाई को जब यह घटना का पता चला तो उसने 100 डायल(event Id-P23111710350) पर फोन कर शिकायत दर्ज कराई। जब मेरा भाई मानवेन्द्र और उसका मित्र मयंक घर के बाहर ही पुलिस का इंतजार कर रहे थे, तभी मुहल्लावासी दुर्जेन्द्र द्विवेदी पूत्र ओमबाबू, मंजुल द्विवेदी पुत्र ओमबाबू उन्हे जोर जबरदस्ती कर अपने घर ले गये और उनके साथ मारपीट की, जबरन मेरे छोटे भाई के हाथ मे कट्टा थमाकर खुद ही हवा मे फायर करवाया और पुलिस को बुला कर उन्हे हिरासत मे दे दिया। पुलिस दोनो पक्षो के व्यक्तियो को कोतवाली ले गये किन्तु विपक्षी पुलिस में है व दबंग है राजनीति में उनकी अच्छी पकड़ होने के कारण विपक्षियों को निर्दोष छोड़ दिया गया और मेरे भाईयो पर झूठे केश बनाकर जेल भेज दिया। चूंकि हम लोग गरीब व बेसहारा होने के कारण हमारी कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। यह सब घटना मोहल्ले में हुये चुनावी प्रकरण व आपसी मन मुटाव के कारण एक साजिश के तहत मेरे भाइयो को फसाया जा रहा है। अतः आपसे निवेदन है कि इस घटना की निस्पक्ष जाँच करा कर मेरे भाईयों को न्याय दिलाने की कृपा करे।



आज — Shivam आप पर भरोसा कर रहे हैं

Shivam Yadav से "Deputy Inspector General of Police jhansi uttar pradesh: उपेंद्र उर्फ अंशु, मयंक और अंशु का भाई बेगुनाह है?" के साथ आपकी सहायता की आवश्यकता है। Shivam और 37 और समर्थक आज से जुड़ें।