Petition Closed

चोकाहातु ‘ससनदिरि’ (पुरखा स्मारक) मेगालिथ क्षेत्र को इसलिए वर्ल्ड हेरिटेज साइट घोषित किया जाना आवश्यक है, क्योंकि यह -

1. चोकाहातु में मुण्डा आदिवासियों का ‘ससनदिरि’ (पुरखा स्मारक) 7 एकड़ में फैला एक विशाल मेगालिथ क्षेत्र है.

2. यहां 7600 से ज्यादा स्मारक हैं.

3. यह ससनदिरि कम से कम 2500 साल पुराना है और आज भी मुण्डा आदिवासी परंपरा का जीवित अंग है.

4. चोकाहातु का ससनदिरि स्थल (मेगालिथ क्षेत्र) न सिर्फ पुरातात्विक, सांस्कृतिक और धार्मिक महत्व का है बल्कि यह इंसानी ज्ञान परंपरा का एक जीवित अमूल्य विरासत है.

5. भारत में हिंदू, मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई और बौद्ध सहित अनेक धार्मिक व सांस्कृतिक पुरा महत्व के स्थल ‘वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स’ घोषित किये जा चुके हैं तो आदिवासी विश्वास और परंपरा के स्थलों का भी संरक्षण होना चाहिए.

Letter to
Rajbhawan, Jharkhand Governer of Jhrakhand
Archaeological Survey of India Director General
UNESCO World Heritage Centre Director
Declare the Chokahatu Megalithic site (Sasandiri) as a World Heritage Site