#BeBrave G7 पेटीशन - बच्चों के प्रति यौन हिंसा को ख़त्म करें

#BeBrave G7 पेटीशन - बच्चों के प्रति यौन हिंसा को ख़त्म करें

0 have signed. Let’s get to 75,000!
At 75,000 signatures, this petition becomes one of the top signed on Change.org!
Brave Movement started this petition

हिन्दी I ENG I USA I GER I ITA I ES I FR日本語I CAN (ENG) I CAN (FR) I EL SAL

मेरा नाम ElsaMarie है और मैं बचपन की यौन हिंसा से बची हूं।

मैंने इस याचिका की शुरुआत बहादुर आंदोलन के 8 अन्य बचे लोगों के साथ की थी।

हम G7 देशों और उससे आगे के 9 बचे लोगों का एक समूह हैं। हम दुनिया के सबसे अमीर देशों के नेताओं से बचपन में यौन हिंसा को समाप्त करने के लिए जून में मिलने पर साहसिक और परिवर्तनकारी कार्रवाई करने का आह्वान कर रहे हैं - ताकि हमारे साथ जो हुआ वह कभी किसी और बच्चे के साथ न हो।

बच्चों के प्रति यौन हिंसा एक वैश्विक अभिशाप है जिसका अनुभव विश्वभर में कम से कम पांच में से एक लड़की और दस में से एक लड़के को होता है। इसके परिणाम ना सिर्फ़ बच्चों के लिए बल्कि उनके परिवारों व पूरे समाज के लिए विनाशकारी हैं। और COVID महामारी ने बच्चों को और जोखिम में डाल दिया है। 

बच्चों के प्रति यौन हिंसा की घटनाएँ हो रहीं है, अभी हो रहीं है, लेकिन चुपचाप। घर में, खेलकूद में, स्कूल में, पूजा स्थलों में। इसके अलावा सरहदों के पार भी ऑनलाइन दुर्व्यवहार, तस्करी और पर्यटकों द्वारा यौन शोषण की घटनाएँ जारी हैं। 

इस संकट को समाप्त करना मानवता के लिए आवश्यक है। यह एक समन्वित अंतर्राष्ट्रीय प्रतिक्रिया की मांग करता है, और दुनिया के सबसे अमीर देशों को इसका नेतृत्व करना चाहिए क्यूँकि उनकी इसमें विशेष जिम्मेदारी है। 

साक्ष्य-आधारित सिद्ध कई समाधान उपलब्ध हैं। G7 नेताओं (जो बाइडन, बोरिस जॉनसन, ओलाफ स्कोल्ज़, इमैनुएल मैक्रों, जस्टिन ट्रूडो, फुमियो किशिदा और मारियो ड्रैगी) को बिना देर किए इसपर एक्शन लेना चाहिए। हमारी माँगे निम्नलिखित हैं -

- एक सुरक्षित इंटरनेट बनाएं जहां बच्चे यौन हिंसा से मुक्त हों।

रोकथाम, उपचार और न्याय कार्यक्रमों को बढ़ावा देने के लिए अपने व निम्न-आय वाले देशों में करोड़ों का निवेश करें।

- बच्चों के खिलाफ यौन हिंसा को स्थायी रूप से समाप्त करने के लिए कार्रवाई करने की सलाह देने वाली G7 सर्वाइवर काउन्सिल बनाकर वास्तव में हमारी बात सुनना शुरू करें।

अब चुप्पी तोड़ने का समय आ गया है। और ये चुप्पी तोड़ना हम सब की ज़िम्मेदारी है - न सिर्फ़ सर्वाइवर्ज़ की। हमारे साथ जुड़ें, आज और आने वाली पीढ़ियों की रक्षा के लिए रोकथाम की मांग करें; सर्वाइवर्ज़ और उनके परिवारों के लिए उपचार; सर्वाइवर्ज़ के लिए न्याय, और अपराधियों और सहभागियों की जवाबदेही। 

अगर पर्याप्त लोग इस पेटीशन पर साइन करते हैं, तो G7 भी अवश्य हमारी बात सुनना चाहेगी। इस मुद्दे को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। हम यह सुनिश्चित करने का वादा करते हैं कि आपके साइन प्रत्येक G7 नेता तक पहुँचाए जाएँगे और हम आपको अप्डेट करते रहेंगे। 

विबके मुलर (जर्मनी), पॉल ज़िट्ज़ (यूएसए), रोसालिया रिवेरा (कनाडा), हारुमी सुजुकी (जापान), मी कोहियामा (फ्रांस), मैथ्यू मैकवारिश (यूके), ब्रिसा डी अंगुलो (बोलीविया), एल्सामेरी डी'सिल्वा (भारत) , फ्लोरेंस कीया (केन्या)

चित्र - हाथों में अपने बचपन की तस्वीर लिए खड़े, रोसालिया, मैथ्यू और विबके।  

0 have signed. Let’s get to 75,000!
At 75,000 signatures, this petition becomes one of the top signed on Change.org!