#AzadiForAzad: भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर को इलाज की सख्त ज़रूरत, रिहाई के लिए आवाज़ उठाएं

0 व्यक्ति ने साइन किए। 5,000 हस्ताक्षर जुटाएं!


भीम आर्मी चीफ़ चंद्रशेखर आज़ाद को नागरिकता कानून के खिलाफ़ प्रदर्शन करने के लिए गिरफ़्तार किया गया था। वो 21 दिसंबर से तिहाड़ जेल में बंद हैं।

वो संविधान को बचाने की लड़ाई के साथ ही एक बड़ी बीमारी से भी लड़ रहे हैं। अगर उनका इलाज नहीं हुआ तो उन्हें हार्ट अटैक आ सकता है। उनकी जान को खतरा हो सकता है।

इस पेटीशन पर अभी हस्ताक्षर करें और ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करें ताकि चंद्रशेखर आज़ाद को इलाज के लिए तुरंत बेल दी जाए। उन्हें तुरंत रिहा किया जाए।

बहुत ही कम लोगों को मालूम है कि चंद्रशेखर आज़ाद एक बड़ी बीमारी से जूझ रहे हैं। इस बीमारी को पॉलीसाइथिमिया कहते हैं, जिसमें शरीर का खून गाढ़ा होने लगता है। अगर समय रहते शरीर का खून ना बदला जाए तो इससे हार्ट अटैक भी हो सकता है और व्यक्ति की जान जा सकती है।

एम्स के डॉक्टर भट्टी के अनुसार एम्स के हेमोटोलॉजी विभाग में पिछले एक साल से चंद्रशेखर आज़ाद का इलाज चल रहा है। डाक्टरों का कहना है कि उनकी हालत कभी भी बिगड़ सकती है।

राजनीतिक बहस को एकबार किनारे रखकर सोचिए, क्या मानवाधिकारों के तहत भीम आर्मी चीफ़ को इलाज नहीं मिलना चाहिए? वो 15 दिन से भी ज़्यादा जेल में रहे हैं। उनको तुरंत रिहा किया जाए।

आज़ाद की आज़ादी के लिए आवाज़ उठाएं, इस पेटीशन को इतना शेयर करें कि जल्द से जल्द चंद्रशेखर आज़ाद को रिहा किया जाए।

पेटीशन पर हस्ताक्षर करें और शेयर कर के चंद्रशेखर आज़ाद के लिए आवाज़ उठाएं।

इमेज क्रेडिट: इंडियन एक्सप्रेस

#AzadiForAzad



आज — sumit आप पर भरोसा कर रहे हैं

sumit Turuk से "#AzadiForAzad भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर को इलाज की सख्त ज़रूरत, रिहाई के लिए आवाज़ उठाएं @BhimArmyChief @CPDelhi @amitshah" के साथ आपकी सहायता की आवश्यकता है। sumit और 3,064 और समर्थक आज से जुड़ें।