Aid FOR Electrocuted Burn Victim

0 have signed. Let’s get to 100!


अपनी बालकनी में कपड़े सुखाने के क्रम में 11,000 volt लाइन के चपेट में आने से बुरी तरह झुलस गई इसके कारण उसके दोनों हाथ काटने पड़े और पैर की स्थिति भी अभी नाजुक है । अच्छी भली महिला आज विभागीय लापरवाही की भेंट चढ़ गई और अपने नित्यकर्म के लिए भी उसे आश्रित होना पड़ रहा है । ना खुद से पानी पी सकती है ना ही अपनी नित्य क्रिया को कर सकती है ।

एक अच्छा भला हंसता खेलता परिवार आज दर दर की ठोकरें खाने पर मजबूर हो गया है ।सभी से निवेदन है की इस मुद्दे को सरकार तक पहुंचाएं जिससे पीड़ित को न्याय मिले ।



Today: Mahendra kumar is counting on you

Mahendra kumar Chourasiya needs your help with “Aid FOR Electrocuted Burn Victim”. Join Mahendra kumar and 61 supporters today.