एक रोटी थोड़ा पानी

0 व्यक्ति ने साइन किए। 100 हस्ताक्षर जुटाएं!


नमस्ते, देशवासियों|

मेरा नाम श्रुति है|

हमारे घर प्रतिदिन तीन कुत्ते आते हैं जिनका नाम हमने Cranky, Hanky and Lanky रखा है| कुछ दिन पहले तक वो सिर्फ कुछ बिस्किटों के लिए आते थे, पर अब वो हर समय आते हैं इस आस में कि खाने को कुछ मिल जाए| हम उनके लिए हर समय पानी का इंतज़ाम रख रहे हैं और कुछ रोटियाँ दे रहे हैं ताकि इस कठिन घड़ी का हम सब सामना कर सकें| ये मूक प्राणी हम पर ही निर्भर हैं और अगर हम उन्हें कुछ न देंगे, तो उनका जीवित रहना भी मुश्किल हो जायेगा| हम सिर्फ इन तीन प्राणियों का पालन कर पा रहे हैं, किन्तु उन जैसे लाखों प्राणी असहाय भटक रहे हैं| हमारी संवेदना और थोड़ा सा प्रयास उनके लिए जीवनदायी साबित होगा|

आज हम में से ज़्यादातर लोग घर पर हैं| क्यों न कुछ समय इनके लिए भी निकाल लें| हमारा छोटा सा अपितु निरंतर प्रयास पूरी करेगा इन असहाय जीवों की छोटी सी आस|

मेरी आप सबसे हाथ जोड़कर प्रार्थना है और एक विनती है कि एक सजग और संवेनदशील मनुष्य होने के नाते हम सब एक छोटा सा नियम बनायें- एक रोटी थोड़ा पानी उन्हें मुहैया करवाएं और दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें| देश के कई भागों में तापमान काफी बढ़ गया है और तपती कड़क धूप असहनीय हो गयी है| ऐसे में हमारी सहायता के बिना ये प्राणी दयनीय स्थिति में हैं|

मैं आशा करती हूँ कि आप में से हर कोई आगे आएगा और इनकी सहायता करेगा जो हम मनुष्यों का मूल गुण है|

मुझे पूर्ण विश्वास है कि हमारे और केंद्र एवं राज्य सरकारों के सजग प्रयासों से हम सब मिलकर इस विपदा को जड़ से उखाड़ देंगे|

घर पर रहें, नियमों का पूर्ण रूप से पालन करें| सुरक्षित और संवेदनशील रहें!

जय हिन्द! जय भारत!

#एकरोटीथोड़ापानी