व्यावसायिक प्रशक्षको के लिए एक जॉब पोलिसी बनाई जाए

0 व्यक्ति ने साइन किए। 500 हस्ताक्षर जुटाएं!


महोदय में आपका ध्यान इस ओर आकर्षित करना चाहता हूँ कि मध्यप्रदेश राज्य में 2014 से व्यावसायिक शिक्षा चल रही है जो राज्य के शासकीय विद्यालयों में कक्षा 9 वी से कक्षा 12 वी तक के विद्यार्थियों के लिए संयुक्त रूप से राज्य शिक्षा केन्द्र और नेशनल स्किल क्वालिफिकेशन फ्रेम वर्क जो कि केंद्र सरकार की चलाई गई योजना के तहत चल रही है जिसके अंतर्गत हम व्यावसायिक प्रशिक्षको को थर्ड पार्टी मतलब की आउटसोर्स के माध्यम से रखा गया हैं।  इस योजना अंतगर्त 1226 स्कूल में 2 ट्रेड के मान से 2452 व्यावसायिक प्रशिक्षक कार्य कर रहे है । जिसके अंतर्गत हमे निरंतर निम्न समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है ।

1.महोदय हमारी सैलरी 2014 से ही 20000 रुपये मासिक है जिसमे आज तक कोई बढ़ोत्तरी नही की गई है।

2 हमारा वेतन कभी भी हर माह नही मिलता। हमारा वेतन 7 -7 माह तक रोका जाता है और कभी कभी तो कंपनी खा कर भाग जाती है। और सरकार भी कोई कार्यवाही नही करती हैं।

3 एक ही प्रदेश में हम सभी का वेतन अलग अलग मद काट के दिया जाता है जिसका कोई रिकॉर्ड भी नही दिया जाता।सरकार द्वारा निर्धारित कंपनीया अलग अलग मद काट कर अलग वेतन देती है। यानी कि वेतन 20000 हजार होने के बाद भी सभी कंपनी में अलग अलग दिया जाता है।

4हमे बिना किसी नोटिस के कभी भी हटा दिया जाता है।। और कंपनी को हटा देने पर हम लोगो को उसी जॉब के लिए पुनः परीक्षा और साक्षात्कार देना पड़ता हैं।

5 हमे न तो कोई मेडिकल अवकाश मिलता है और न ही  महिलाओं को कोई मातृत्व अवकाश।अगर हम बीमार पड़ जाए तो 7 दिन से ज्यादा निरंतर अनुपस्थित रहने पर सेवा से पृथक कर दिया जाता है।

6 सरकार द्वारा हर साल किसी न किसी  कंपनी को टर्मिनेट किया जाता है जिसके बाद उसमें काम करने वाले लोगो को वापस सेवा में नही लिया जाता। वापस सेवा के लिए उन्हें पुनः भर्ती प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है।

7 हर साल 2 महीने किसी भी एम्प्लॉय को कोई सैलरी नही दी जाती। केवल 10 माह का ही  वेतन दिया जाता हैं

अतः महोदय जब हम लोगो का ही भविष्य स्थायी नही है और न हमारी जॉब स्थाई है न वेतन समय पर मिलता है तो हम कैसे पूरे मन से कार्य कर सकते है। कैसे अपने परिवार का पालन पोषण कर सकते है। कैसे इस मिशन को सफलता के उच्च आयाम तक पहुँचा सकते है। फिर भी हमारे सभी साथी पूरे मध्यप्रदेश में अच्छा रिजल्ट देते है। ओर ऐसी विषम परिस्थिति में भी कार्य कर रहे है।

अतः आप हमारी समस्यों का निराकरण करे तथा एक जॉब पालिसी बनाये तथा हमारा भविष्य निर्धारित कीजिये।