भारत मे विनियमित भांग/गांजा की आवश्यकता है (Regulated Cannabis/Hemp Cultivation Needed)

0 व्यक्ति ने साइन किए। 200 हस्ताक्षर जुटाएं!


विनियमित भांग/गांजा की आवश्यकता(Regulated Cannabis/Hemp Cultivation Needed in India)

1.धार्मिक(Religion)

अनेक शिव मंदिरों में भगवान शिव का श्रंगार भांग सी किया जाता है,भगवान शिव को भाँग अतिप्रिय है तो यह कोई साधारण पौधा नही होगा। गांजा पृथ्वी पर सबसे संभावित फाइटोसेप्टिक है जो शरीर की कोशिकाओं के जीवन को बेहतर बना सकता है क्योंकि यह भगवान शिव द्वारा धतूरा और आक के साथ उपयोग किया जाने वाला एक पवित्र पौधा है। ( Hemp is a most potential Phytoceutical on earth that can improve life of the body cells as it is a holy plant used by Lord Shiva along with datura stramonium and aak (Calotropis gigantea))

2. अर्थव्यवस्था (Indian economy)

गांजा से निकाले गए 85% से अधिक अणु अल्कालोइड्स आयातित हैं, भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए एक बड़ा प्रत्यक्ष नुकसान(More than 85% of the molecules derived from Hemp are imported, a huge direct loss for Indian economy)

3. स्वास्थ्य लाभ(Health Benefits)

3.1 मेरे अपने शोध(डॉ: विक्रम शर्मा) के अनुसार ये सभी सुपर मेडिसिन या स्वास्थ्य मध्यस्थ हैं जो जीवित जीवों की बड़ी बीमारियों को खत्म कर सकते हैं।  इन तीनों के पीछे का कारण इन तीनों पौधों में मौजूद एंटी-एजिंग फाइटो-अणुओं का सुपर शक्तिशाली गुण है।(According to my own(Dr  Vikram Sharma) research all of these are super medicines or health moderators that can eliminate major diseases of living organism. The reason behind all these three is the super powerful properties of these anti-ageing phyto-molecules present in these three plants.)

3.2 गांजा क्षारसूत्र में कई अन्य मानव औषधीय गुण होते हैं क्योंकि इसका उपयोग एंटी-बाइट, एंटी-कैंसर, एंटी-मोटापा के साथ-साथ सबसे अच्छा एंटी-एजिंग एजेंट में से एक के रूप में किया जा सकता है क्योंकि इसमें सबसे अच्छा एंटी-ऑक्सीडेंट अणु गुणों में से एक है  सेल की दीवार को स्थिर बनाएं।

(Hemp alkaloids have many other human medicinal properties as it can be used as anti-bite, anti-cancer, anti-obesity as well as one of the best anti-ageing agent as it contains one of the best anti-oxidant molecule having properties to make cell wall stable.)

3.3 गांजे के बीज का पोषण मूल्य (Nutritional Value of Hemp Seed)

इसकी उपलब्धता, स्थिरता, बहुमुखी प्रतिभा और स्वास्थ्य लाभ के कारण पूरे विश्व में गांजा बीज का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है।  इसे उपयोगी बनाने वाले तत्व मुख्य रूप से इसके रासायनिक घटक, पोषक तत्व और खनिज हैं।  इनमें जस्ता, मैग्नीशियम, कैल्शियम, फॉस्फोरस, लोहा और फाइबर के उच्च स्तर शामिल हैं।  इसके अलावा, हेम्प सीड में 21 प्रमुख अमीनो एसिड होते हैं, जिसमें नौ आवश्यक अमीनो एसिड शामिल हैं, जो इसे पूर्ण प्रोटीन बनाते हैं।  इसके अलावा, यह बड़ी संख्या में खाद्य तेलों और शरीर में कई प्रकार के आवश्यक वसा से बना होता है, जिसमें ओमेगा -6 का दुर्लभ रूप शामिल होता है जिसे GLA (गामा लिनोलेइक एसिड) कहा जाता है जो सभी ओमेगा एसिड का शक्तिशाली रूप है।(Hemp seed is so widely used throughout the world because of its availability, sustainability, versatility, and health benefits. The elements that make it so useful are mainly its chemical components, nutrients, and minerals. These include high levels of zinc, magnesium, calcium, phosphorous, iron and fiber. Also, hemp seed contains 21 major Amino Acids, including the nine essential amino acids, making it a complete protein. Furthermore, it is composed of a large number of edible oils and a variety of essential fats in the body, including a rare form of omega-6 called GLA (gamma linoleic acid) which is the potent form of all Omega Acids.)

3.4 गांजे के बीज के स्वास्थ्य लाभ(Health Benefits of Hemp Seed)

3.4.1 कार्डियोवस्कुलर हेल्थ: हार्ट के बीज का हृदय स्वास्थ्य पर व्यापक प्रभाव पड़ता है।  अधिकांश विशेषज्ञों ने ओमेगा -3 फैटी एसिड के लिए 3: 1 या 4: 1 ओमेगा -6 फैटी एसिड के विशिष्ट संतुलन की सिफारिश की।  गांजा बीज दुनिया के एकमात्र पौधों में से एक है जहां यह पहले से ही सामान्य संतुलन है।(Cardiovascular Health: Hemp seed has a wide range of effects on heart health. Most of the specialists recommended a specific balance of 3:1 or 4:1 omega-6 fatty acid to omega-3 fatty acid. Hemp seed is one of the only plant substances in the world where this is the normal balance already.)

3.4.2 एनीमिया का उपचार: गांजा बीज में पाए जाने वाले अन्य खनिजों में से एक लोहा है।  गांजा बीज जैसे खाद्य पदार्थों से उचित मात्रा में लोहे का सेवन एनीमिया को रोकने में मदद कर सकता है।(Treatment of Anemia: One of the other minerals that can be found in hemp seed is iron. Proper amount of iron intake from foods like hemp seed can help prevent anemia.)

3.4.3 स्नायु मास: चूंकि भांग के बीज में आठ आवश्यक अमीनो एसिड होते हैं जो मानव शरीर द्वारा नहीं बनाया जा सकता है, इसे पूर्ण प्रोटीन के रूप में जाना जाता है।  भांग के बीज का उचित मात्रा में सेवन आपकी मांसपेशियों की टोन को बढ़ावा देने का एक अच्छा तरीका है।(Muscle Mass: Since hemp seed does have the eight essential amino acids that cannot be made by the human body, it is known as a complete protein. Eating an appropriate amount of hemp seed is a good way to boost your muscle tone.)

3.4.4 कैंसर को रोकता है:भांग के बीज और गांजा के बीज के तेल में एक निश्चित मात्रा में फेनोलिक यौगिक होते हैं जो शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करते हैं जो मुक्त कणों को खत्म करके विभिन्न प्रकार के कैंसर को रोक सकते हैं।(Prevents Cancer: There is a certain amount of phenolic compounds in hemp seed and hemp seed oil that act as powerful antioxidants which can prevent various types of cancer by eliminating free radicals.)

3.4.5 हार्मोनल असंतुलन: गांजा बीज थायरॉयड और अग्न्याशय के लिए एक हार्मोन नियामक के रूप में काम करता है।  यह हार्मोनल असंतुलन से आने वाले कई लक्षणों को कम कर सकता है, जिसमें गंभीर रजोनिवृत्ति के लक्षण, मिजाज, अवसाद और चिंता शामिल हैं।(Hormonal Imbalance: Hemp seed works as a hormone regulator for the thyroid and pancreas. It can reduce many of the symptoms that come from a hormonal imbalance, including severe menopausal symptoms, mood swings, depression, and anxiety).

चेतावनी- भांग के बीज के लिए कोई ज्ञात एलर्जी प्रतिक्रियाएं नहीं हैं, लेकिन बीज को टेट्राहाइड्रोकैनाबिनोल (टीएचसी) से ढके पौधों के हिस्सों के संपर्क में आने से बीज पर टीएचसी के छोटे अवशेष हो सकते हैं।  इसका मतलब है कि आप संभवतः 'उच्च' होने या साइकोट्रोपिक रसायन के प्रभाव के तहत महसूस कर सकते हैं।  भांग के बीज का यह प्रभाव काफी दुर्लभ है, और यह हानिकारक नहीं है, लेकिन पूर्वानुमान न होने पर यह एक असहज महसूस हो सकता है।  गांजा के उपयोग पर कई देशों में प्रतिबंध है, इसलिए उपयोग करने से पहले अपने स्वास्थ्य विशेषज्ञ से परामर्श करें।(Few Words of Warning-There are no known allergic reactions to hemp seed, but the contact that the seeds may have had with Tetrahydrocannabinol (THC) covered plant parts could result in small residues of THC on the seeds. This means that you could possibly experience the feeling being 'high' or under the effect of the psychotropic chemical. This effect of hemp seed is quite rare, and isn’t harmful, but it can be an uncomfortable feeling if not anticipated. Use of hemp is banned in many countries, so consult your health specialist before use)

4.  गांजा के बीज को हेम्प सीड ऑइल, बटर, हेम्प मिल्क के लिए और स्नैक के रूप में खाया जा सकता है।  यह कपड़े, रस्सी, कागज, और निर्माण सामग्री के लिए कपड़े के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।  इसके अलावा, गैस के स्थान पर गांजा को जैव ईंधन के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है (Hemp seeds can be used for hemp seed oil, butter, hemp milk and eaten as a snack. It can be used as fabric for clothes, rope, paper, and building material. Besides this, hemp can also be used as biofuel in place of gas.

5. कृषि उपयोग(Agriculture Use)

भांग के पंचांग से बहुत बढ़िया हरी खाद भी तैयार की जा सकती है जो प्राकृतिक खेती में अत्यंत उपयोगी सिद्ग होगी।भांग व आक से क़ई प्रकार के कीटनाशक, फंगस नाशक व फल संवर्धक बनाए जा सकते हैं जो प्राकृतिक खेती व बागवानी के लिए रीढ़ की हड्डी साबित हो सकते हैं।

क्रेडिट(क्रेडिट)

डॉ: विक्रम शर्मा(Dr Vikram Sharma)

(लेखक तहसील घुमारवीं जिला ,बिलासपुर ,हिमाचल प्रदेश से हैं और कॉफ़ी बोर्ड ऑफ़ इंडिया के पूर्व निदेशक हैं)(The writer from Ghumarwin,Bilaspur,Himachal Pradesh and is Ex Director of Coffee Board of India )

मुझे आपका साथ चाहिए। मेरी पेटीशन साइन और शेयर करें।