बच्चों का भविष्य बर्बाद करते खेल

0 व्यक्ति ने हसताकषर गये। 100 हसताकषर जुटाएं!


मेरा पुत्र जो कि जिमनास्टि का एक अच्छा खिलाड़ी था तथा उसमें हमें भविष्य के लिये अच्छी संभावनाएँ दिखती थीं उसने आॅनलाईन खेलों (मुख्य रूप से पबजी) की गिरफ्त में आकर खेलना, जिम जाना, पढ़ाई करना, माँ-बाप से बात करना सभी बंद कर दिया है।
वह रात-रात भर आॅनलाईन गेम खेलता है, मना करने पर हम पर चिल्लाता है। आये दिन स्कूल से कम्प्लेंट आती थी तो उसने स्कूल जाना भी बंद कर दिया है। यदि समझाया या डांटा जाता है तो झगड़े पर उतारू हो जाता है और घर के सामान को फैंकना व तोड़ना-फोड़ना शुरू कर देता है।
ज्ञातव्य है कि अलग-अलग स्थानों पर कुछ बच्चे इन खेलों से मना करने पर आत्महत्या को भी अंजाम दे चुके हैं।
मैं चाहता हँू कि ऐसे खेलों पर तत्काल कार्यवाही कर शासकीय आदेश से इन्हें पूर्णतः बंद करवाया जाये। यदि पूर्णतः प्रतिबंध लगाना संभव नहीं हो तो ऐसे आदेश दिये जायें कि एक डिवाइस आईडी पर कुछ निश्चित समय जैसे आधा या एक घंटा प्रतिदिन से ज्यादा ऐसे खेलों को यूजर न खेल सके। ये सिर्फ मेरे पुत्र की बात नहीं है ऐसे कई लोग हैं जिनके बच्चे अपने माँ-बाप के सपनों तथा देश के भविष्य को अंधकारमय कर रहे हैं।