उत्पाद पर छपी जानकारी भारतीय भाषा मे हो

0 व्यक्ति ने साइन किए। 100 हस्ताक्षर जुटाएं!


भारतीय कानून के अनुसार बाजार में बेचे जाने वाले उत्पाद पर कुछ जानकारियां छापना अनिवार्य है।समस्त उत्पादक उन सब जानकारियों को छापने को बाध्य है

परन्तु यह सारी जानकारियां यथा नाम,भाव,दिनांक,सामान की विगत,उत्पादक,उपयोग इत्यादि विदेशी भाषा मे छाप दिए जाते है।जिसे आम आदमी समझ नही पाता है।व जानकारी से वंचित रहता है।व कानून का उद्देश्य अपूर्ण रहता है।

आम गरीब किसान खेत मे दी जाने वाली खाद व दवाई खरीदता है,पर उस पर लिखी अंग्रेजी भाषा की जानकारी समझ नही पाता है खाद व दवाई का उपयोग कैसे करना,कितनी मात्रा का उपयोग करना,कब उपयोग करना,कब उपयोग नही करना,कई बार मिलते जुलते नाम की डुप्लीकेट सामग्री विक्रेता द्वारा दे दी जाती है। परिणामस्वरूप कृषि उत्पाद जहरीले हो सकते है,विकृत हो सकते है, फसल खराब हो सकती है।किसान का धन खर्च होने के बावजूद भी सही परिणाम प्राप्त नही होता है।

आम आदमी बीमार होने पर बाजार से दवाई खरीदता है पर उस पर छपा नाम व जानकारी पढ़ नही पाता की दवाई कब व कैसे उपयोग करनी है,इस दवाई के उपयोग के समय क्या परहेज है व किन स्थितियो में उपयोग नही करनी है।विक्रेता द्वारा दूसरी दवाई भी दे दी जाती है।

आम आदमी बाजार से खाद्य सामग्री खरीदता है पर उस पर प्रिंट विदेशी भाषा की जानकारी से समझ नही पाता है व धोखे का शिकार होता है।

निवेदन है कि अनिवार्य समस्त जानकारियां सामग्री के बेचे जाने वाले क्षेत्र की स्थानीय भाषा में व हिंदी भाषा मे छापना कानूनन अनिवार्य किया जाए।